संजीवनी टुडे

जयपुर/ हाईटेक तरीके से वाहन चुराकर फर्जी कागजात तैयार करने वाली गैंग का पर्दाफाश, लग्जरी चौपहिया वाहन बरामद

संजीवनी टुडे 16-07-2020 20:09:00

जयपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम (सीएसटी) और मुरलीपुरा थाना पुलिस ने गुरुवार को हाईटेक तरीके से वाहन चुराकर फर्जी कागजात तैयार करने वाली गैंग का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गैंग के पांच अन्तर्राज्जीय सदस्यों को गिरफ्तार किया है।


जयपुर। जयपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम (सीएसटी) और मुरलीपुरा थाना पुलिस ने गुरुवार को हाईटेक तरीके से वाहन चुराकर फर्जी कागजात तैयार करने वाली गैंग का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गैंग के पांच अन्तर्राज्जीय सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 16 लग्जरी चौपहिया वाहन सहित पांच बाइक बरामद की गई है। आरोपितों ने पूछताछ में तीन दर्जन से अधिक वाहन चोरी की वारदातों सहित एक दर्जन वाहनो के फर्जी दस्तावेज तैयार करने का खुलासा किया है।

जयपुर पुलिस कमिश्नर आंनद श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस ने श्याम सिंह राठौड (50) गांव चिराडा हरमाडा जयपुर हाल भवानी नगर मुरलीपुरा, भानूप्रताप सिंह उर्फ भानू बन्ना (35) डेगाना जिला नागौर हाल देवीका नगर, रोड नंबर 17 विश्वकर्मा, भवानी सिंह (37)  गुढा गौडजी जिला झुन्झुन सत्य नगर झोटवाडा, हेमन्त कुमार शर्मा उर्फ मोनू (35)  शाहपुरा जिला जयपुर हाल जामडोली आगरा रोड और हकीमूदीन उर्फ समीर (50) बुलन्दशहर यूपी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों से 16 चौपहिया लग्जरी वाहन जिनमें टोयटाफोरच्यूनर, हुण्डई क्रेटा, कैम्पास जीप, होण्डा सिटी, होण्डा एक्सेन्ट, मारूति स्वीफ्ट डिजायर, हुण्डई- वर्ना , हुण्डई आई-10 गाडियां सहित बुलेट, प्लसर एवं  हीरो पेशन, स्पेलण्डर बाइक बरामद की गई है।

आरोपी जयपुर में दिल्ली, हरियाणा एवं उत्तरप्रदेश से चोरी के वाहन लाकर फर्जी कागजात तैयार कर बेचते थे। सूचना के बाद पुलिस ने अण्डर कवर रहकर रैकी की और फिर टीमों को जयपुर, जयपुर ग्रामीण, मेवात एरिया, हरियाणा, दिल्ली एवं उत्तरप्रदेश भेजा गया। इसके बाद आरोपियों को यूपी और जयपुर से गिरफ्तार किया गया।

सभी आरोपित के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज 

आरोपित श्याम सिंह राठौड से पूछताछ में सामने आया कि वह मूलतः विवादित प्रोपर्टी का काम करता है जिसमें पूर्व में कूटरचित दस्तावेज बनाने में कई बार जेल जा चूका है जिसने भवानी सिंह के माध्यम से चोरी के वाहन दिल्ली की गैंग से खरीदकर जयपुर में बेचना स्वीकार किया है। जिसने दिल्ली की गैंग व हेमन्त शर्मा उर्फ मोनू, समीर से करीब 20 वाहन चोरी की खरीद किये। जिनमें से नौ वाहनों को अहमदाबाद गुजरात में पार्टियों को बेच दिये ।जिसके कब्जे से आट चौपहिया वाहन सहित एक मोटर साइकिल बुलेट बरामद की गई है। इसके अलावा पुलिस ने आरोपित भवानी सिंह से विभिन्न वाहनों की कूटरचित दस्तावेज आरसी एवं अन्य दस्तावेज बरामद हुये हैं। आरोपित हेमन्त सिंह उर्फ मोनू जो उत्तरप्रदेश के कुख्यात वाहन चोर सारिक उर्फ साठा उर्फ आजम खान के लिये काम करता है जिसके खिलाफ उत्तर प्रदेश व अन्य राज्यों में करीब 70 मामले दर्ज है जो फरार चल रहा है। इसके द्वारा हरियाणा, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, हिमाचल प्रदेश से चोरी गई गाडियों को फर्जी दस्तावेज के आधार पर बेचे है।

यह खबर भी पढ़े: हिमाचल/ कांगड़ा में तीन पैरामिलिट्री और एक सेना के जवान सहित पांच कोरोना पॉजिटिव

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From jaipur

Trending Now
Recommended