संजीवनी टुडे

सिर ढकने के पीछे की ये वजह नहीं जानते होंगे आप

संजीवनी टुडे 03-07-2020 11:06:41

हमारी भारतीय संस्कृति की एक खास परम्परा का पालन महिलाएं सदियों से करती हुई आ रही है वो सिर ढकने की परम्परा घर की महिलाएं अक्सर बड़े बुजुर्ग के सम्मान में सिर ढका करती है


डेस्क। हमारी भारतीय संस्कृति की एक खास परम्परा का पालन महिलाएं सदियों से करती हुई आ रही है वो सिर ढकने की परम्परा घर की महिलाएं अक्सर बड़े बुजुर्ग के सम्मान में सिर ढका करती है तो कुछ विशेष धार्मिक स्थानों पर सिर ढकना अनिवार्य होता है कुछ लोग इसे धार्मिक सम्मान की दृष्टि से देखते है तो कुछ लोग इसका आकलन वैज्ञानिक दृष्टि से भी करते है ।

Head covering

-सभी धर्मों की स्त्रियां दुपट्टा या साड़ी के पल्लू से अपना सिर ढंककर रखती हैं। सिर ढंकना एक सम्मान का प्रतीक माना गया हैं। मान्यता के अनुसार कहा जाता है कि जिसको आप आदर देते हैं, उनके आगे हमेशा सिर ढंककर जाते हैं। इसी कारण से कई महिलाएं अभी भी जब भी अपने सास-ससुर या बड़ों से मिलती हैं, तो सिर ढंक लेती हैं। यही कारण है कि जब हम मंदिर में जाते हैं, तो सिर ढंककर ही जाते हैं।

Head covering

-हिन्दू धर्म के अनुसार सिर के बीचोबीच सहस्रार चक्र होता है जिसे ब्रह्म रन्ध्र भी कहते हैं। हमारे शरीर में 10 द्वार होते हैं- 2 नासिका, 2 आंख, 2 कान, 1 मुंह, 2 गुप्तांग और सिर के मध्य भाग में 10वां द्वार होता है। दशम द्वार के माध्यम से ही परमात्मा से साक्षात्कार कर पा सकते हैं। इसीलिए पूजा के समय या मंदिर में प्रार्थना करने के समय सिर को ढंककर रखने से मन एकाग्र बना रहता है।

Head covering

 -अगर वैज्ञानिक दृष्टिकोण की बात करें तो माना जाता है की ब्रह्मरंध्र सिर के बीचों-बीच स्थित होता है। मौसम का मामूली से परिवर्तन के दुष्प्रभाव ब्रह्मरंध्र के भाग से शरीर के अन्य अंगों में आतें हैं। इसके अलावा आकाशीय विद्युतीय तरंगे खुले सिर वाले व्यक्तियों के भीतर प्रवेश कर क्रोध, सिर दर्द, आंखों में कमजोरी आदि रोगों को जन्म देती है। अगर सिर ढका रहता है तो हम कई तरह के रोगों से बच जाते हैं ।

Head covering

-जीवन मे सकारात्मक प्रभाव सिर ढकने की खास परम्परा को लेकर मान्यता है की जिन्‍हें आप जिन्हे श्रेष्‍ठ और आदरणीय मानते हैं उनके सामने सिर को खुला नहीं रखना महिलाएं उनके सम्मान और आदर के लिए सिर ढका करती है लाइफस्टाइल बदल रहा ऐसे में जहां शहरी निवास महिलाए इस परम्परा को कम निभाती है तो वही ग्रामीण महिलाएं आज भी समाज मे इस परम्परा का पालन करती है।

Head covering

-सिर ढकने से महिलाएं नकारात्मक ऊर्जा से खुद को बचाएं रख सकती है। सिर ढकने से नकारात्मक ऊर्जा एकदम से सिर में प्रवेश नहीं कर पाती है। कहा जाता है कि सिर के मध्‍य में एक चक्र होता है जब आप सिर को ढ़ककर पूजा करते हैं तो यह चक्र सक्रिय होता है। जो आपके ध्यान को केद्रित करता है। बस इस वजह से महिलाओं को सिर ढकने के फायदें भी है जिससे आप अनजान है। इससे खूबसूरती में भी चार-चांद लगता हैं।

यह खबर भी पढ़े: अगर बदलते मौसम में वायरल फीवर जकड़ ले तो अपनाएं ये उपाय, कुछ ही समय में हो जायेगा छूमंतर

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From interesting-news

Trending Now
Recommended