संजीवनी टुडे

अनोखी प्रेम कहानी: 27 सालों से पत्नी की अस्थियों से यूं करते हैं प्यार का इजहार

संजीवनी टुडे 09-09-2019 10:35:49

पूर्णिया के रूपौली के निवासी 87 वर्षीय बुजुर्ग भोलानाथ आलोक 27 सालों से अपनी पत्नी (पद्मा) की अस्थियां संजोकर अपनी मौत का इंतजार कर रहे हैं।


पूर्णिया। पूर्णिया के रूपौली के निवासी 87 वर्षीय बुजुर्ग भोलानाथ आलोक 27 सालों से अपनी पत्नी (पद्मा) की अस्थियां संजोकर अपनी मौत का इंतजार कर रहे हैं। उनकी ये इच्छा है कि उनकी मौत के पश्चात उनकी अंतिम यात्रा के वक्त ये अस्थियां भी उनके सीने से लगी हों।

gfdgsg

यह खबर भी पढ़े:पाक में एक ऐसी जगह जहां मुसलमानों से ज्यादा रहते हैं हिंदू, एक साथ मानते है सभी पर्व

शख्स ने मीडिया से बातचीत में कहा, "हमारा विवाह कम आयु में ही हो गया था एवं तभी हम दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाई थी। पत्नी की तो मौत हो गई किन्तु मैं मर नहीं सका परंतु मैंने उनकी यादें संजोकर रखी हैं।"

उन्होंने घर के बगीचे में एक वृक्ष पर लटकी पोटली दिखाते हुए कहा कि मैंने 27 वर्षो से पत्नी की अस्थियों को टहनी से टांगकर सुरक्षित रखा हुआ है। उन्होंने मीडिया से कहा कि अपने वादे को निभाने हेतु उन्हें कोई और तरीका नहीं दिखा इसलिए उन्होंने यही तरीका अपनाया।

वे कहते हैं कि, "पद्मा का ईश्वर पर बड़ा विश्वास था। हम दोनों की जिंदगी अच्छे से कट रह थी किन्तु लगभग 27 साल पहले पत्नी बीमार हुई। उपचार एवं दवा में कोई कमी नहीं हुई पर कहते हैं न कि अच्छे शख्स को ईशवर जल्दी अपने पास बुला लेते हैं। ईश्वर ने पद्मा को भी बुला लिया वो अपना वादा तोड़कर चली गई।

gfdgsg

तत्पश्चात हमने बच्चों की परवरिश की और अब वे बड़े हो गए।"आज शख्स की ये प्रेम कहानी लोगों हेतु चर्चा का विषय बनी हुई है। वो गर्व से कहते हैं, "यहां ना सही किन्तु ऊपर जब पद्मा से मिलूंगा, तब यह तो बोल सकूंगा कि मैंने अपना वादा निभाया।"

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From interesting-news

Trending Now
Recommended