संजीवनी टुडे

यहां सिर्फ 5 घंटे ही होते है माता के दर्शन

संजीवनी टुडे 11-09-2018 12:41:37


नई दिल्ली। आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताएंगे जिसके सम्बन्ध में जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, ये छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिला मुख्यालय से 12 किलोमीटर दूर पैरी नदी के तट पर बसे एक छोटे से गांव निरई के पर्वत पर निरई माता का मंदिर विराजमान है। यह मंदिर अंचल के देवी भक्तों की आस्था का प्रमुख केंद्र है। यहां भक्तों के जरिए माता नारियल और  अगरबत्ती से खुश किया जाता हैं। 

gfgfdg

5 घंटे ही होते है माता के दर्शन
बता दें कि, ये मदिर सुबह 4 बजे से 9 बजे तक मतलब सिर्फ 5 घंटे ही माता के दर्शन किए जा सकते हैं। यहां दर्शन करने हर वर्ष हजारों लोग पहुंचते हैं। इस मंदिर की विशेषता ये है कि यहां हर वर्ष  चैत्र नवरात्र के दौरान खुद ही ज्योति जलती है। 

gfgfdg

200 वर्ष पुरानी मान्यता
यहां रहने वाले लोगों का ये बताना है कि माता निरई की लोग केवल भरोसे से ही पूजा करते है। आज से 200 साल पहले मोहेरा ग्राम के मालगुजार जयराम गिरी गोस्वामी ने माता की पूजा करने बहुरसिंग ध्रुव के पूर्वजों को 6 एकड़ भूमि दान में दी थी। जिसकी खेती कर आमदनी से माता की पूजा-पाठ जातरा पूर्ण हो रहा है। 

2.40 लाख में प्लॉट जयपुर: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में Call:09314166166

MUST WATCH & SUBSCRIBE

बड़ी संख्या में मन्नत मांगते हैं भक्त 
माता की कृपा से मन्नत पूरी होने पर हजारों की संख्या में लोग यहां पूजा करते हैं। यहां कई स्थानों से बड़ी संख्या में लोग मन्नत मांगने के लिए आते है एवं पवित्र मन से माता का दर्शन किया जाता हैं। 

केरल बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए संजीवनी चेरिटेबल ट्रस्ट के जरिए सहायता कर सकते है
बैंक अकाउंट नं.: 27950200001157
IFSC Code: BARB0JAISAN
Paytm: 8005636210

More From interesting-news

Trending Now