संजीवनी टुडे

हैवानियत की हद: गर्भवती हथिनी को खिला दिया पटाखे से भरा फल, 3 दिन तक पानी में खड़ी करती रही मौत का इंतजार

संजीवनी टुडे 03-06-2020 14:27:00

इंसानियत को शर्मसार करने यह घटना उत्तरी केरल के मलप्पुरम जिले से सामने आई है।


मलप्पुरम। केरल में एक अमानवीय घटना सामने आई है। यहां कुछ शरारती तत्वों ने एक गर्भवती हथिनी को पटाखों से भरा अनानास खिला दिया। पटाखे हथिनी के मुंह में फट गए और हथिनी के गर्भ में पल रहे बच्चे समेत उसकी मौत हो गई। यह दर्दनाक घटना वन विभाग के एक अधिकारी ने तस्वीरें सोशल मीडिया में पोस्ट कीं। कुछ ही देर में सोशल मीडिया में ये तस्वीरें वायरल हुईं और लोगों का गुस्सा फूट पड़ा।

सूत्रों के अनुसार इंसानियत को शर्मसार करने यह घटना उत्तरी केरल के मलप्पुरम जिले से सामने आई है। यहां पर कुछ लोगों ने मिलकर एक गर्भवती हथिनी को विस्फोटक भरा अनानास खिला दिया, जिससे उसकी ऐसी स्थिति हो गई कि वह मरने के लिए नदी में जा खड़ी हुई।

यह मामला गुरुवार का बताया जा रहा है, जिसमें बुरी तरह से घायल हथिनी की बीते शनिवार को मौत हो गई। जानवर बहुत जल्द ही इंसानों पर भरोसा कर लेते हैं, लेकिन ऐसे में इंसान उनके साथ क्या करते हैं। इस घटना ने जानवरों की सुरक्षा पर भी प्रश्नचिन्ह लगा दिया है। 

एक वरिष्ठ वन अधिकारी ने कहा कि केरल के साइलेंट वैली फ़ॉरेस्ट में एक गर्भवती जंगली हाथी मानव क्रूरता का शिकार हो गई। यहां हथिनी के मुंह में पटाखे से भरा अनानास फट गया। उसके सारे मसूड़े बुरी तरह फट गए और वह खा भी नहीं पा रही थी। आखिरकार बेजुबान हाथी की मौत हो गई।

प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) और मुख्य वन्यजीव वार्डन सुरेंद्र कुमार ने पीटीआई को बताया- यह माना जा रहा है कि पटाखा हथिनी को मारने के इरादे से ही खिलाया गया था। ये घटना की रिपोर्ट अट्टापदी के साइलेंट वैली के फ्रिंज इलाके में हुई। सुरेंद्र कुमार ने कहा कि हाथी की मौत 27 मई को मलप्पुरम जिले में वेल्लियार नदी में हुई। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम से पता चला है कि वह गर्भवती थी। 

Pregnant elephants

उन्होंने कहा, "वन अधिकारियों को अपराधी को पकड़ने के लिए निर्देशित दिया गया है। उसे सजा दी जाएगी। हथिनी की दुखद मौत का मामला तब सामने आया जब वन अधिकारी मोहन कृष्णन ने अपने फेसबुक पेज पर एक भावनात्मक पोस्ट लिखा। हाथी को सिर तक नदी में खड़ा देखकर कृष्णन नाम की महिला समझ गई थी कि वह मर गई है। इसके बाद लोगों को मामले की जानकारी हुई।

फ़ेसबुक पोस्ट से घटना सामने आई
वन अधिकारी मोहन कृष्णन्न ने अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट कर बताया कि यह मादा हाथी खाने की तलाश में भटकते हुए जंगल से पास के गांव में आ गई थी। उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा कि घायल होने के बाद हथिनी एक गांव से भागते हुए निकली लेकिन उसने किसी को भी चोट नहीं पहुंचाई। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: Cyclone Nisarga Live Updates: तूफान का महाराष्ट्र के रायगढ़ में लैंडफॉल, कुछ देर में पहुंचेगा मुंबई, राजस्थान में भी असर

यह खबर भी पढ़े: उत्तर प्रदेश/69000 शिक्षक भर्ती पर लगी रोक, एक सप्ताह तक आपत्ति दर्ज करवा सकेंगे अभ्यर्थी

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From interesting-news

Trending Now
Recommended