संजीवनी टुडे

...तो इसलिए हमेशा बायीं तरफ ही छिदवाई जाती है नाक

संजीवनी टुडे 20-04-2019 14:09:17


नई दिल्ली। आज हम नाक छिदवाने को लेकर बात करे तो आपको ये बता दें कि नाक छिदवाना भारतीय संस्कृति एवं प्रथा के हिसाब से काफी आवश्यक माना जाता है। भारतीय औरतों के नाक छिदवाने के पीछे का कारण काफी कम लोग जानते होंगे।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

hghhf

ज्यादातर औरतें नाक छिदवाने को सिर्फ शृंगार से जोड़कर ही देखती हैं। किन्तु उनका ऐसा विचार करना सही नहीं है। बता दें कि नाक में छेद करवाने की कोई विशेष आयु नहीं होती है।

इसे किसी भी आयु में छिदवाया जा सकता है। गर्भावस्था में भी औरतें अपनी नाक छिदवा सकती है। इससे बच्चे पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है।

hghhf

जानिए, बायीं तरफ ही क्‍यों छिदवाई जाती है नाक?
अक्सर लड़कियां बायीं तरफ ही अपनी नाक छिदवाती है, क्योंकि उस जगह की नसें औरत के प्रजनन अंगों से जुडी हुई होती हैं। नाक के इस भाग पर छेद करने से औरत को प्रसव के दौरान भी दर्द कम होता है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इस कारण बायीं तरफ ही नाक छिदवाई जाती है। वहीं, कुछ लोग बोलते है कि बायीं ओर का कान छेदने से महिला को बल्ड प्रेशर जैसी दिक्कत भी नहीं होती है।

More From interesting-news

Trending Now
Recommended