संजीवनी टुडे

एक मंडप में दूल्हे ने दो दुल्हन के साथ रचाई शादी

संजीवनी टुडे 20-05-2019 13:33:06


जशपुर। शादि‍यों के सीजन में रस्मो-रिवाज के बीच मंडप में अब तक एक दूूल्हा और एक दुल्हन ही सात फेरों के साथ संपन्न हुई शादि‍यां देखी गई है। लेकिन एक मंडप में एक दूल्हे ने दो दुल्हन के साथ पूरे रीत‍ि-रिवाजों के अनुसार शादी किया है। यह अजीब शादी जशपुर जिले के बगीचा विकासखंड अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत बगडोल में शनिवार को हुई और इस अनोखी शादी का गवाह पूरा पंचायत क्षेत्र रहा।

fdfsff

पूरे विधि‍वत रूप से दूल्हे के घर से निकली बरात धूमधाम से दूल्हन के घर पर पहुंची और मंडप में एक दूल्हे की दो दूल्हनों के साथ शादी संपन्न होने के बाद, दोनों दूल्हनों के साथ दूल्हे की विदाई भी हो गई। यह अनोखी शादी शनिवार को जशपुर जिले के ग्राम बगडोल में हुई है और दूल्हा सीआरपीएफ का जवान है जो वर्तमान में बनारस कैंप में पदस्थ है। इस जवान का नाम अनिल पैकरा है जो आदिवासी समुदाय के अंतर्गत कंवर समुदाय से है। 

इसने इस शादी पर दो दुल्हनों के साथ शादी कर एक कहानी को वास्तविक रूप में पूरा किया है। आपको बताते चलें कि दूल्हे की शादी इससे पहले चार वर्ष पहले भी हुई थी। उस शादी के बाद पत्नी के साथ बीते चार वर्षों से दाम्पत्य जीवन निर्वहन कर तो रहा था लेकिन बच्चा नही होने की कसक लगातार दोनों को परेशान कर रहा था।

इसी बीच वह ग्राम बगडोल में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के सम्पर्क में आया और दोनों में प्रेम सम्बन्ध स्थापित होने की बात अनिल ने अपनी पहली पत्नी को बताया तो उसने इसपर कोई ऐतराज नही किया और शादी कराने की तैयारी करते हुए बरातियों के साथ बरात जाने की व्यवस्था पूर्ण क‍िया। 

fdfsff

यह बात पत्‍नी ने अनिल को बताया तो अनिल ने अपनी पहली पत्नी के त्याग को खुशी में बदलने के लिए दूल्हन के घर भेजा। दौरान यह बात ग्रमीणों को मालूम हुई तो कुछ लोगों ने इसका विरोध करने के लिए दूल्हन के घर पहुंच नाराजगी जताते हुए परिजनों को शादी नहीं करने का बात कही। इसी बीच अनिल कि पहली पत्नी और उपस्थित परिजनों ने सामूहिक मर्जी से शादी करने के बारे में ग्रामीणों को बताया।

बरात का स्वागत नियमानुसार करने के बाद एक ही मंडप के नीचे अनिल ने अपनी पहली पत्नी और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को दूसरी पत्नी का दर्जा देते हुए रीति रिवाजों के साथ सात फेरे लिए और आखिर में विरोध करने वाले ग्रामीणो के अलावा अन्य लोग इस अनोखी शादी के साक्षी बन गए। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल 

 

अनिल से बात करने पर उसने बताया कि उसकी पत्नी ने सहमति जताई तो उसने कुछ अलग तरीके से खुशी देने के लिए दूसरी पत्नी के परिजनों के सहमति से संपन्न हुआ और दोनों पत्नी एक साथ बहन के रूप में रहें, इस उद्देश्य से यह कदम उठाया गया।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From interesting-news

Trending Now
Recommended