संजीवनी टुडे

गरीबी के कारण डॉक्टरी नहीं पढ़ाना चाहते थे पिता, बेटे ने उठाया ऐसा कदम...

संजीवनी टुडे 11-06-2019 16:33:29

झारखंड में अपने पिता से झगड़ा कर एक किशोर कोलकाता भाग आया था और यहां किसी से परिचय नहीं होने की वजह से मजबूरन सड़कों पर बैठकर रो रहा था।


कोलकाता। महानगर कोलकाता की पुलिस का मानवीय चेहरा अक्सर सामने आता रहता है। ताजा घटना मंगलवार सुबह की है। झारखंड में अपने पिता से झगड़ा कर एक किशोर कोलकाता भाग आया था और यहां किसी से परिचय नहीं होने की वजह से मजबूरन सड़कों पर बैठकर रो रहा था। 

बाबूघाट बस स्टैंड पर सुबह 9:50 बजे के करीब ट्रैफिक ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मी राजू दोलुई और श्यामल मांझी की नजर उस पर पड़ी। तुरंत दोनों मौके पर पहुंचे और रो रहे किशोर को अपने साथ ले गए। पहले तो वह अपना परिचय नहीं बता रहा था लेकिन दोनों ट्रैफिक सार्जेंट ने सबसे पहले उसे भरपेट भोजन कराया और उसे हर तरह की मदद का आश्वासन दिया। 

इसके बाद किशोर ने रोते हुए अपना नाम निलेश सिंह बताया। दोनों पुलिसकर्मियों को उसने बताया कि वह मूल रूप से झारखंड के गिरिडीह जिला अंतर्गत राजधनवार थाना क्षेत्र के पूर्णानगर गांव का रहने वाला है। वह 12वीं का छात्र है और पढ़ाई-लिखाई में भी मेधावी है। 

वहमेडिकल की पढ़ाई करना चाहता है लेकिन उसके पिता बहुत गरीब हैं और गरीबी की वजह से उसे डॉक्टरी की पढ़ाई नहीं पढ़ाना चाहते हैं, इसलिए कल उसने मां-बाप से लड़ाई की थी और गुस्से में अपना कुछ सामान और बैग लेकर घर से भाग गया था। ट्रेन से हावड़ा उतरा था और वहां से कोलकाता के बाबूघाट आ पहुंचा था।

यहां किसी से परिचय नहीं होने की वजह से वह समझ नहीं पा रहा था कि क्या करें इसलिए बैठ कर रो रहा था। किशोर ने अपनी मां का मोबाइल नंबर भी ट्रैफिक सार्जेंट को दे दिया जिसके बाद बच्चे की मां चमेली देवी ने पुलिसकर्मियों से बात की। जब उन्होंने बताया कि उनका बच्चा पुलिस के पास सुरक्षित है तब बेहद खुश हुई। 

किशोर की मां ने बताया कि उनका रिश्तेदार हावड़ा में रहते हैं, वह कुछ देर में पुलिस के पास पहुंचकर उसे वापस ले जाएंगे। चंद घंटों बाद सुबह 11:30 बजे के करीब हावड़ा के कदमतला स्थित जोगमाया वाटर टैंक के पास रहने वाले अजय सिंह नाम के शख्स ने बाबूघाट पहुंचकर पुलिसकर्मियों से संपर्क किया।

बच्चे ने भी उन्हें अपने चाचा के रूप में पहचाना। उसके बाद उसकी मां चमेली देवी से अजय सिंह और बच्चे की बात कराई गई और कानूनी प्रक्रिया पूरी कर किशोर को अजय सिंह के हवाले कर दिया गया है।

मात्र 220000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188 

More From interesting-news

Trending Now
Recommended