संजीवनी टुडे

जीवन संवारने के लालच में कर बैठी डकैती, कहा- अब मेरी बेटी का क्या होगा?

संजीवनी टुडे 04-11-2017 16:03:52

रांची। यहां सोनारी के शिवम अपार्टमेंट में रिटायर्ड बैंककर्मी के घर डकैती करने वाली लड़की और उसका पूरा गिरोह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एसएसपी अनूप टी मैथ्यू ने शुक्रवार को कहा है कि इस मामले में लड़की, उसके पति समेत चार बदमाश गिरफ्त में आये हैं। इस दौरान लड़की ने कहा- '10 लाख रुपए मिलने पर जीवन संवारने के लालच में उससे यह गलती हो गई। अब चिंता हो रही है कि एक साल की बेटी का क्या होगा।'  

यह भी पढ़े: इस युवक की ट्रेफिक पुलिस ने जमकर की पिटाई, देखे वीडियो

पीड़ित ने कहा- बार-बार उस लड़की का क्रूूर चेहरा आ जाता है सामने
डकैती का खुलासा होने से श्रीजन दत्ता और उनकी पत्नी गौरी दत्ता खुश हैं। गौरी दत्ता को इस बात की खुशी है कि बेटी की शादी के लिए जमा किया जेवर वापस मिल जाएगा। श्रीजन दत्ता ने बताया कि 'मैं इस घटना को नहीं भूल सकता, दत्ता ने कहा- बार-बार उस लड़की का क्रूूर चेहरा सामने आ जाता है।' 

'मैं बार-बार सोचता हूं कि कोई लड़की इतनी कठोर और ऐसा काम कैसे कर सकती है। गिरोह और लड़की दोनों पकड़ी गई, पुलिस ने खुलासा किया तो राहत मिली है।' आरोपी मुस्कान ने 4 साल पहले सागर से लव मैरिज किया था, सागर पहले से आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहा है। एसएसपी अनूप टी मैथ्यू ने बताया कि सागर चोरी के मामले में पहले भी जेल जा चुका है।


लड़की ने बताई अपनी कहानी
मुस्कान सिंह ने बताया कि वो पश्चिम सिंहभूम के गुआ की रहने वाली है, पिता नहीं हैं। मां दुकान चलाती हैं, एक भाई है। चार साल पहले घर से भागकर आदित्यपुर में सहेली के घर आई थी, सहेली की सागर सोनी से दोस्ती थी, सागर से मुस्कान को प्यार हो गया। परिवार वालों के खिलाफ जाकर सागर से शादी कर ली उनकी एक डेढ़ साल की बेटी है। 

आदित्यपुर एम टाइप में वो किराए के मकान में रहते थे, उसने बताया 30 अक्टूबर की दोपहर सागर के साथ उनके दोस्त भालूबासा निवासी राजू जाॅर्ज के घर गई थी। वहीं, उससे राजू और सागर ने कहा- एक काम करना है। बदले में काफी रुपए मिलेंगे। इसके बाद सभी शहर छोड़ सकते हैं। जीवन भर दिक्कत नहीं होगी। 

उनकी बात सुनकर मुस्कान ने पूछा कितने रुपए मिलेंगे, राजू ने कहा-10 लाख। काम ऐसा है कि फंसने का डर नहीं है, मुस्कान 10 लाख के लालच में आ गई और पूछा- क्या करना होगा? राजू ने कहा- सोनारी शुभम अपार्टमेंट में जाना है, दोपहर को घर में एक बुड्ढा अकेला मिलेगा। तुम्हें सिर्फ दरवाजे पर दस्तक देना है और काम का बहाना बनाकर फंसाना है। तुम पति व बच्चे के साथ चैन की जिंदगी गुजार सकती हो। उसके पति सागर ने भी उसकी हां में हां मिला दी।

 
 
अखबार में देखा फोटो तो उड़ गए होश

मुस्कान ने बताया कि गौरांगो ने बांकुड़ा से बोलेरो मंगवाई, योजना के मुताबिक वो 31 अक्टूबर को मरीन ड्राइव पर मिले। बोलेरो में राजू व दो साथी थे। मुस्कान सिंह, सागर व गौरांगो के साथ पहले सोनारी संगम विहार गई, लेकिन वहां महिला ने अंदर जाने से रोक दिया। फिर शिवम अपार्टमेंट गए। फिर यहां लूट की और बिना समय गंवाए बोलेरो से फरार हो गए। मुस्कान, पति सागर के साथ आदित्यपुर में अपने घर चली अाई। रात घर में सोए। 

यह भी पढ़े: VIDEO : शाहपुरा हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 14 हुई, कई लोग गंभीर रूप से घायल

1 नवंबर की सुबह अखबार में मुस्कान और पति की तस्वीर छपी देखी तो होश उड़ गए, सागर के साथ बेटी को लेकर टेम्पो से सोनारी गई। वहां गौरांगो की पत्नी उसके तीन बच्चों को साथ लिया। वो भुइयांडीह बस स्टैंड गए और गिरिडीह चले गए, वहां सागर का दोस्त रहता है। उसके घर में ठहरे थे कि रात में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मुस्कान सिंह ने कहा- 'जिंदगी संवर जाएगी, यह सोचकर मैंने पहली बार अपराध किया था, और पकड़ी गई। मुझे अपना गम नहीं है, चिंता है अपनी बेटी की, उसका क्या होगा?' 

 

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

Rochak News Web

More From national

Trending Now
Recommended