संजीवनी टुडे

इतिहास के पन्नों में 30 नवम्बर का दिन क्यों है खास

संजीवनी टुडे 30-11-2016 08:21:02

नई दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 30 नवंबर का अपना ही एक खास महत्व है।
30 नवंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
1997 - भारत-बांग्लादेश विवादित सीमा क्षेत्र में यथास्थिति बनाये रखने पर सहमत।
1999 - सं.रा. अमेरिका के उत्तर पश्चिम 'सिएटल' में विश्व व्यापार संगठन का तीसरा अधिवेशन प्रारम्भ।
2000 - अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव मामले में अल गोर ने पुनर्मतगणना की अपील की।
2001 - विश्व प्रसिद्ध पॉप गायक जार्ज हैरीसन का निधन।
2002 - आईसीसी ने जिम्बाव्वे में न खेलने वाले देशों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की चेतावनी दी।
2004 - बांग्लादेश की संसद में महिलाओं के लिए 45 प्रतिशत सीटों वाला विधेयक पारित।
2008- मुम्बई में हुए आतंकी हमले के बाद सरकार ने संघीय जाँच एजेंसी के गठन की घोषणा की। सरकार ने एसएटी रिजवी वेतन समिति का कार्यकाल बढ़ाने का निर्णय लिया।
30 नवंबर को जन्मे व्यक्ति
1858 - प्रसिद्ध वैज्ञानिक जगदीश चन्द्र बोस
1944 - मैत्रेयी पुष्पा - हिंदी की प्रसिद्ध साहित्यकार हैं।
1931 - रोमिला थापर, भारतीय इतिहासकार
30 नवंबर को हुए निधन
2012- इन्द्र कुमार गुजराल - भारत के बारहवें प्रधानमंत्री
1915- गुरुजाडा अप्पाराव- प्रसिद्ध तेलुगु साहित्यकार
1909 - रमेश चन्द्र दत्त - अंग्रेज़ी और बंगला भाषा के प्रसिद्ध लेखक, ये धन के बहिर्गमन की विचारधारा के प्रवर्तक तथा महान शिक्षाशास्त्री थे।

यह भी पढ़े: नोटबंदी के बीच आईएएस अफसरों ने सिर्फ 500 रूपये में रचाई शादी

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े: जिंदगी भर के लिए छिन गयी इस लड़की की हंसी... पढ़ना ना भूले

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

sanjeevni app

More From history

Trending Now
Recommended