संजीवनी टुडे

कोरोना का गढ़ बना शिमला, संक्रमितों का आंकड़ा छह हजार के करीब, जबकि 141 लोगों की मौत

संजीवनी टुडे 25-11-2020 12:07:24

हिमाचल प्रदेश का शिमला जिला कोरोना वायरस का गढ़ बनता जा रहा है। संक्रमण की संख्या के मामले में शिमला ने मंडी जिला को भी पछाड़ दिया है


शिमला। हिमाचल प्रदेश का शिमला जिला कोरोना वायरस का गढ़ बनता जा रहा है। संक्रमण की संख्या के मामले में शिमला ने मंडी जिला को भी पछाड़ दिया है और यह कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित जिला बन गया है। कोरोना संक्रमण के करीब 17 फीसदी मामले शिमला में सामने आए हैं। बीते कल मंगलवार को यहां 375 नए मामलों की पुष्टि हुई है। शिमला में नए कोरोना केस का यह नया एकदिवसीय रिकॉर्ड है। इसके साथ ही यहां कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या छह हजार के करीब पहुंच गई है। 

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शिमला जिला में अब तक कोरोना के 5,936 पाॅजिटिव मामले दर्ज किए जा चुके हैं। इसके अलावा यहां 141 कोरोना रोगियों की मौत हो चुकी है, जो राज्य की कुल मौतों का 25 फीसदी है। हालांकि मृतकों में 75 फीसदी वैसे लोग हैं, जो पहले से ही अन्य बीमारियों से पीड़ित थे।

संक्रमण के नए मामलों में बढ़ोत्तरी होने की वजह से कोरोना की रिकवरी रेट 67 फीसदी आ गई है। जबकि एक माह पहले रिकवरी रेट 75 फीसदी थी। 

ताजा आंकड़ों के मुताबिक शिमला में 3,987 कोरोना मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हुए हैं। नवम्बर महीने में शिमला में कोरोना का जबरदस्त प्रकोप देखा जा रहा है। नवम्बर के 24 दिनों में यहां संक्रमण के 3,438 नए मामले दर्ज किए गए। इस अवधि के दौरान 76 लोगों की कोरोना से जान गई है। 

शिमला में कोरोना प्रसार के पीछे दो बड़ी वजह को माना जा रहा है। पहला, बाहरी राज्यों से पर्यटकों की संख्या में वृद्धि को बताया गया है। दूसरा, फेस्टिवल सीजन व शादी समारोहों में शारीरिक दूरी के नियमों की अवेहलना की गई तथा ऐसे आयोजनों में भारी संख्या में लोग जमा हुए। इसके साथ मास्क के उपयोग में भी लापरवाही बरती गई है।

कोरोना का संक्रमण बढ़ने पर प्रदेश सरकार ने सख्त फैसला लेते हुए शिमला जिला में रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक कफर्यू लगाने के आदेश दिए हैं। शिमला के अलावा मंडी, कांगड़ा और कुल्लू जिलों में आगामी 15 दिसम्बर तक रात्रि कर्फ्य जारी रहेगा।

यह खबर भी पढ़े: आर्थिक रूप से सक्षम परिवार मदरसों की बजाय कॉनवेन्ट स्कूलों को दे रहे तरजीह

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From himachal-pradesh

Trending Now
Recommended