संजीवनी टुडे

साइबर अपराधियों के निशाने पर मुख्यमंत्री, विधायक, अधिकारी और मीडिया कर्मी

संजीवनी टुडे 03-08-2020 21:45:22

साइबर अपराधियों के निशाने पर मुख्यमंत्री, विधायक, अधिकारी और मीडिया कर्मी


शिमला। हिमाचल के मुख्यमंत्री के साथ-साथ सरकारी अफसर विधायक और पत्रकार साइबर शातिरो के निशाने पर है । नाईजीरिया में बैठे साइबर शातिर  प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नाम से प्रदेश में कई लोगों को फर्जी ई-मेल भेजी जा रही है। ये फर्जी ई-मेल मुख्यतः सरकारी अफसरों, विधायकों, पत्रकारों व अन्य गणमान्य लोगों को भेजी जा रही है। इन फर्जी ई-मेलों में ( आई नीड ए फेवर फ्रोम यू,  राईट नॉऊ, र्काईंडल ई-मेल मी बेक  सून एज पॉसिबिल ) यह लिखा जा रहा है। ऐसी ही फर्जी ई-मेल विधायक राकेश सिंघा, राजेंद्र राणा और एक पत्रकार को भी भेजी गई है। 

 विधायक राकेश सिंघा ने सोमवार को प्रदेश पुलिस मुख्यालय पहुंच डी.जी.पी. संजय कुंडू से मिले। राज्य गुप्तचर विभाग के साईबर थाना पुलिस ने प्रदेशवासियों को सावधान किया है।  ऐसे में साइबर पुलिस ने सावधान किया है कि यदि किसी को इस तरह की कोई मेल प्राप्त होती है तो उसका जबाब न दें। इस संदर्भ में साइबर थाना पुलिस ने भारतीय दंड संहिता व आई.टी.एक्ट की धारा  धारा 66-डी. के तहत केस दर्ज किया है और मामले की जांच जारी है। 

साइबर पुलिस की जांच में सामने आया है कि ई.मेल को भेजने वाली आई.डी न तो सरकारी है, न ही मुख्यमंत्री कार्यालय से इसका कोई लिंक है। वही इस मामले में पुलिस अधीक्षक कानून एवं व्यवस्था डा. खुशहाल शर्मा ने सोमवार को कहा कि सभी उक्त तरह की फर्जी ई-मेलों से सावधान व सतर्क रहें क्योंकि ये ई-मेल मुख्यमंत्री के कार्यालय से नहीं अपितु नाईजिरिया में बैठकर लोगों को ठगी करने के उददेश्य से भेजी जा रही है। मुख्यमंत्री के नाम से फर्जी ई-मेल भेजने का मामला कुछ दिनों पूर्व सामने आया था। ऐसे में मामले का संज्ञान लेते हुए सीआईडी के साइबर क्राइम सेल को जांच के आदेश दिए गए थे। मुख्यमंत्री ने भी मामले को गंभीरता से लिया है।

इधार, माकपा विधायक राकेश सिंघा ने कहा कि उन्हे भी फर्जी ई-मेल भेजी गई है। ऐसे में डीजीपी. से मिले है और ई-मेल के बारे में अवगत करवाया गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के नाम से फर्जी-ई-मेल भेजने वालों को बेनकाब किया जाना चाहिए। इस मामले में उन्होंने उचित कार्रवाई किए जाने का आग्राह किया है।

यह खबर भी पढ़े: जयपुर/ कैसे टूटा ATM का डिजिटल लॉक, सेंध लगाके 17 लाख रुपये की चोरी, संदिग्ध कर्मचारियों पर भी नजर

यह खबर भी पढ़े: कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा- राममंदिर के बाद 'रामत्व' के विकास पर कार्य करेगा विहिप

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From himachal-pradesh

Trending Now
Recommended