संजीवनी टुडे

गुरुग्राम: रक्षाबंधन पर बहनों को भाईयों ने दिलाया उनकी रक्षा का विश्वास

संजीवनी टुडे 03-08-2020 21:19:00

गुरुग्राम: रक्षाबंधन पर बहनों को भाईयों ने दिलाया उनकी रक्षा का विश्वास


गुरुग्राम। सोमवार को रक्षाबंधन के पर्व पर जब बहनों ने भाईयों की कलाई पर राखी के रूप में प्यार बांधा तो भाईयों ने उनकी सदैव रक्षा, सुरक्षा का वचन दिया। नन्हें बच्चों से लेकर उम्रदराज बुजुर्गों तक ने रक्षाबंधन का पर्व धूमधाम से मनाया गया। रक्षाबंधन पर्व पर कोरोना महामारी के चलते कई तरह के ऐहतियात लोगों को बरतने पड़े। फिर भी बहन-भाई का प्यार कोरोना पर भारी पड़ा। घरों से बाहर रहने वाले लोग रक्षाबंधन से एक दिन पहले और रक्षाबंधन के दिन सोमवार को भी अपने घरों को जाते रहे। हर किसी को अपने घर पहुंचने की जल्दी थी। बाजारों में खरीदारी को अच्छी-खासी भीड़ देखी गई। रविवार को भी यहां के सदर बाजार में खरीदारी को सबसे अधिक भीड़ महिलाओं की रही। मेहंदी वालों की भी यहां पर चांदी रही। कोरोना पर यहां सभी भारी पड़ते दिखाई दिए। रात के दो बजे तक यहां सदर बाजार के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाएं, युवतियां मेहंदी लगवाती रही।

पहले से बुकिंग के चलते यहां काफी समय उन्हें इंतजार भी करना पड़ा। सोमवार सुबह से ही रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाना शुरू हो गया। किसी ने मुहुर्त के मुताबिक राखी बांधी तो किसी ने बिना कोई मुहुर्त देख। उनके लिए राखी बांधना ही शुभ मुहुर्त रहा। सोशल मीडिया पर सोमवार को राखी पर्व ही टें्रड करता रहा। हर कोई राखी बांधकर और बंधवाकर अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया फेसबुक, वाट्सअप के स्टेट्स, ट्वीटर और इंस्टाग्राम पर पोस्ट करता रहा। हर आम और खास ने राखी के पर्व को धूमधाम से मनाया।

लंबे समय के बाद सोमवार को रक्षाबंधन एक विशेष संयोग पर मनाया गया। रक्षा बंधन का ऐसा योग 558 वर्ष बाद बना है। इससे पहले ऐसा योग सन् 1462 में बना था। इसलिए सोमवार को दिन भाई-बहन के पवित्र रिश्ते के लिए खास रहा। इस वर्ष रक्षाबंधन पर सर्वार्थ सिद्धि एवं दीर्घायु आयुष्मान का शुभ संयोग बना है। हिन्दू कैलेंडर के मुताबिक रक्षाबंधन का त्योहार श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस दिन बहनें भाइयों की कलाई पर राखी के रूप में रक्षासूत्र बांधती हैं। उनकी लंबी आयु की कामना करती हैं।  

यह खबर भी पढ़े: जयपुर/ कैसे टूटा ATM का डिजिटल लॉक, सेंध लगाके 17 लाख रुपये की चोरी, संदिग्ध कर्मचारियों पर भी नजर

यह खबर भी पढ़े: कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा- राममंदिर के बाद 'रामत्व' के विकास पर कार्य करेगा विहिप

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From haryana

Trending Now
Recommended