संजीवनी टुडे

अनु मलिक के खिलाफ महिला आयोग को नहीं मिले सबूत, सिंगर का केस हुआ बंद

संजीवनी टुडे 17-01-2020 14:24:59

अनु मलिक काफी दिनों से सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप झेल रहे थे। लेकिन अब उन्हें राहत मिल गई है। अनु मलिक के खिलाफ अतिरिक्त सबूत नहीं मिलने के कारण उन पर चल रहे केस को फिलहाल बंद कर दिया गया है।


नई दिल्ली । संगीतकार और गायक अनु मलिक काफी दिनों से सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप झेल रहे थे। लेकिन अब उन्हें राहत मिल गई है। अनु मलिक के खिलाफ अतिरिक्त सबूत नहीं मिलने के कारण उन पर चल रहे केस को फिलहाल बंद कर दिया गया है। यह केस NCW संभाल रहीं थी और सबूतों के अभाव में केस को टेंपररी बेसिस पर बंद कर दिया गया है। 

यह खबर भी पढ़े:लंदन में सोनम के साथ हुई एक भयावह घटना, बोलीं- मैं बुरी तरह हिल गई हूं

anu malik

मुंबई मिरर में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, नेशनल वुमेन कमिशन की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने कहा कि ये केस फिर से ओपन हो सकता है अगर महिलाएं उनके खिलाफ सबूत लेकर आगे आएं तो। रेखा ने कहा कि उनकी तरफ से शिकायतकर्ता को इस बारे में लिखा गया था, लेकिन शिकायतकर्ता की तरफ से जवाब आया कि वो अभी ट्रैवल कर रही हैं, वापस लौटने पर उनसे मिलेंगी। 

anu malik

महिला आयोग ने 45 दिन तक शिकायतकर्ता का इंतजार किया और डॉक्यूमेंट्स की मांग की, लेकिन उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आया। शिकायतकर्ता ने अनु मलिक के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाने वाली जिन भी महिलाओं का जिक्र किया था उनकी ओर से भी कोई जवाब नहीं मिला। इस वजह से इस केस को बंद करना पड़ा। हालांकि केस अभी टेम्परेरी बंद हुआ है, अगर अनु मलिक के खिलाफ सबूत सामने आए तो केस को दोबारा खोला जा सकता है।

anu malik

बता दें कि मीटू कैंपेन के दौरान गायिका सोना मोहापात्रा ने अनु मलिक के ऊपर कई गंभीर आरोप लगाए। उस वक्त अनु मलिक 'इंडियन आइडल सीजन 10' के जज थे। इन आरोपों की वजह से उन्हें शो से बाहर कर दिया गया। 

 

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From entertainment

Trending Now
Recommended