संजीवनी टुडे

जाने माने बाल कलाकार शिवलेख सिंह की मौत पर TV एक्ट्रेेस बरखा सेनगुप्ता ने बताया कि...

संजीवनी टुडे 24-07-2019 17:18:04

14 साल के बाल कलाकार शिवलेख सिंह की 18 जुलाई को एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी। शिवलेख के निधन की खबर से टेलीविजन इंडस्ट्री में शोक की लहर है तो वहीं माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है


मुंबई। 'बालवीर' और 'ससुराल सिमर का' जैसे सीरियल में काम करने वाले मात्र 14 साल के बाल कलाकार शिवलेख सिंह की 18 जुलाई को एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी।  शिवलेख के निधन की खबर से टेलीविजन इंडस्ट्री में शोक की लहर है तो वहीं माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। अपने इकलौते बेटे को खोने के दुख से शिवलेख के पेरेंट्स सदमे में है। कार एक्सी़डेंट के दौरान शिवलेख की तुरंत मौत हो गई थी जबकि माता-पिता को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हादसे के तीन दिन बाद शिवलेख के पिता ने बताया कि आखिर उस दिन क्या हुआ था। 

बता दें कि, शिवलेख की मौत पर कई सेलेब्स ने दुख व्यक्त किया है. शिवलेख की मौत पर टीवी एक्ट्रेस बरखा सेनगुप्ता ने हैरानी जताई है। वे शिवलेख के साथ सीरियल 'श्रीमान श्रीमति फिर से' में काम कर चुकी हैं। बरखा का कहना है कि शिवलेख की मौत का जब उन्हें पता चला तो वे कुछ भी रिएक्ट नहीं कर पाई थीं।

बरखा बताया कि- ''मैं सदमे में हूं, मुझे नहीं पता कि कैसे रिएक्ट करूं. मेरे को-स्टार ने मुझे पिछली रात फोन किया और ये दर्दनाक खबर दी। उसने मुझे कहा कि चिंटू अब नहीं रहा। हम शिवलेख को चिंटू कहते थे क्योंकि उसने वो रोल प्ले किया था। कुछ मिनटों तक मैं रिएक्ट ही नहीं कर पाई थी और अभी भी मैं शिवलेख की मौत की खबर को नहीं मान पा रही हूूं। शिवलेख ब्राइट और क्यूट बच्चा था. जब भी मैं उससे मिलती थी उसके चेहरे पर स्माइल रहती थी। मुझे याद है कि वो एक अच्छा डांसर था. वो सेट पर हमें अपनी परफॉर्मेंस से एंटरटेन करता था. मैं अभी भी सदमे में हूं।

बरखा के अनुसार  अभी शिवलेख के माता-पिता से बात करने का सही समय नहीं है. वे दुखी हैं ऐसे में उन्हें समय देने की जरूरत है. एक्ट्रेस ने कहा- सच कहूं तो मुझमें उसके पैरेंट्स से बात करने की हिम्मत नहीं है. मैं खुद एक पैरेंट हूं, मुझे पता है बच्चे को खोने से बड़ा और कोई दुख नहीं है.

'मैं उनसे जरूर बात करूंगी लेकिन अभी नहीं. ये सही समय नहीं है. ये उनके लिए मुश्किल भरा वक्त है. मैं अगले हफ्ते तक उनसे बात करूंगी. इससे पहले सीरियल अग्न‍िफेरा में शिवलेख की को-एक्टर रहीं एक्ट्रेस सुरभि तिवारी ने भी एक्टर की मौत पर दुख जताया था. उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था- 'परिवार पूरा बिखर गया है. मैं इस हादसे की गहराई नहीं समझ पा रही हूं. मैं बता नहीं सकती कि इस वक्त परिवार पर क्या गुजर रही है. शिवलेख की मां मेरी अच्छी दोस्त हैं. शिवलेख के मम्मी-पापा दोनों ही उसे एक्टर बनते देखना चाहते थे.'

जिस सड़क हादसे में शिवलेख की मौत हुई, उसी एक्सीडेंट में उनके माता-पिता गंभीर रूप से घायल हो गए थे. बेटे को खोने के बाद वे पूरी तरह टूट चुके हैं. शिवलेख उनका इकलौता बेटा था। मीडिया से बात करते हुए शिवलेख के पिता शिवेंद्र सिंह ने रोते हुए कहा- 'हम निजी काम से बिलासपुर गए थे, जब हम वापस घर आ रहे थे और सब खत्म हो गया।

ड्राइवर को चोट आई...मेरी पत्नी और मैं ब्लैंक आउट हो चुके थे और जब हम जागे तो पता चला कि हमारा बेटा जा चुका है। मुझे नहीं पता कि किस चीज ने उसे मारा। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

बता दें कि, शिवलेख छत्तीसगढ़ के रहने वाले थे। उन्होंने कई टीवी शोज में अपनी भूमिका निभाई जिनमें प्रमुख संकटमोचन हनुमान, बालवीर और ससुराल सिमर का आदि सम्मिलित थे। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

 

More From entertainment

Trending Now