संजीवनी टुडे

करण के वकील ने मुंबई पुलिस को कठघरे मेें खड़ा किया

संजीवनी टुडे 19-06-2019 21:23:48

बांबे हाईकोर्ट द्वारा जमानत याचिका स्वीकार होने के बाद जेल से बाहर आए टीवी एक्टर करण ओेबेराय के वकील की ओर से इस मामले में मुंबई पुलिस की कार्रवाई पर गंभीर सवाल खड़े किए गए हैं


मुंबई। बांबे हाईकोर्ट द्वारा जमानत याचिका स्वीकार होने के बाद जेल से बाहर आए टीवी एक्टर करण ओेबेराय के वकील की ओर से इस मामले में मुंबई पुलिस की कार्रवाई पर गंभीर सवाल खड़े किए गए हैं। मई में एक महिला द्वारा कथित तौर पर दुष्कर्म तथा आपत्तिजनक वीडियो बनाकर ब्लैकमेल के मामले में गिरफ्तार हुए करण ओबेराय को पिछले सप्ताह बांबे हाईकोर्ट ने जमानत दी। अब वो महिला पुलिस द्वारा गिरफ्तार की गई है, जिसने उनके खिलाफ ये मामला दर्ज कराया है। महिला को अपने ऊपर हमले का झूठा मामला बनाने के केस में गिरफ्तार किया गया है। महिला ने पुलिस में शिकायत की थी कि कुछ युवकों ने उसके ऊपर हमला किया और करण के खिलाफ केस वापस लेने की धमकी दी।


 इस मामले में पुलिस के घेरे में आए चार युवकों में से एक का कनेक्शन उस महिला के वकील से निकला, तो पुलिस ने वकील को गिरफ्तार किया और अब उस महिला को भी गिरफ्तार किया गया है। इस पूरे घटनाक्रम पर करण ओबेराय के वकील दिनेश तिवारी ने मुंबई पुलिस पर गंभीर सवाल उठाते हुए महिला को फायदा पंहुचाने का आरोप लगाया। दिनेश तिवारी का कहना है कि करण ने पिछले साल पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि ये महिला उनको झूठे केस में फंसा सकती है, लेकिन पुलिस ने उनकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की। 

महिला की शिकायत पर मई में करण ओबेराय को आधी रात को ही गिरफ्तार किया गया और 48 घंटे बाद कोर्ट में पेश किया गया और उनके मोबाइल तथा लैपटाप को तुरंत जब्त कर लिया गया, जबकि आपत्तिजनक वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने की शिकायत करने वाली महिला के मोबाइल की जांच नहीं की गई, जबकि दोनों के बीच मोबाइल में दर्ज बातचीत में साफ था कि दुष्कर्म बताने वाली घटना के बाद भी महिला करण के साथ रोमांटिक बातचीत करती रही। दिनेश तिवारी ने ये भी आरोप लगाया कि बांबे कोर्ट की ओर से भी पुलिस को मामले की सही से जांच न करने के लिए फटकार लगाई गई और महिला के प्रति बरती गई नरमी पर सवाल उठाए। 

दिनेश तिवारी ने कहा कि पुलिस ने अब भी महिला को अपने ऊपर हमला कराने की फर्जी कहानी गढ़ने के मामले में गिरफ्तार किया है, जबकि उस महिला के ऊपर करण ओबेराय के खिलाफ झूठा मामला दर्ज कराने के केस में भी आरोपी बनाया जाना चाहिए। दिनेश तिवारी का कहना है कि वे ये मामला लेकर बांबे कोर्ट में फिर से याचिका दायर करेंगे। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From entertainment

Trending Now
Recommended