संजीवनी टुडे

'झारखंड' देश का पहला राज्य होगा, जहां नया पाठ्यक्रम होगा बारकोड आधारित

संजीवनी टुडे 16-06-2019 20:17:23

झारखण्ड सरकार बच्चों को बार कोड युक्त पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराने को लेकर काफी प्रयासरत है। इसके लिए सर्कार काफी समय पहले से काम कर रही है।


रांची। झारखण्ड सरकार बच्चों को बार कोड युक्त पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराने को लेकर काफी प्रयासरत है। इसके लिए सर्कार काफी समय पहले से काम कर रही है। जिससे शिक्षकों के साथ ही बच्चे भी पाठ्यक्रम से संबंधित विस्तृत जानकारी ऑनलाइन भी हासिल कर सकें।

पाठ्यक्रम तैयार करने वाले शिक्षकों का कहना है कि झारखंड देश का पहला राज्य होगा, जहां यह व्यवस्था लागू होगी। व्यवस्था के तहत आवश्यकता पड़ने पर शिक्षक बार कोड डालकर मोबाइल पर भी संबंधित पाठ्य सामग्री का अध्ययन कर जानकारी हासिल कर सकते हैं, जिससे उन्हें बच्चों को पढ़ाने में सरलता होने वाली है। इस दिशा में राज्य भर में काम जोरों पर है। झारखंड काउंसिल फॉर एजुकेशन एंड रिसर्च ट्रेनिंग की देखरेख में चयनित शिक्षकों के समूह पाठ्यक्रम के अनुसार पाठ्य सामग्री तैयार करने में जुटे हैं। इसे रुचिकर बनाने पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। 

ु

पढ़ाई का यह नया अंदाज झारखंड के छात्रों के लिए पढ़ाई को मजेदार बनाकर उन्हें पढ़ाई का नया अनुभव भी उपलब्ध कराएगा।पाठ्य सामग्री तैयार कर रहे शिक्षकों ने बताया कि बच्चों को दी जाने वाली पाठ्य पुस्तकों में अब बार कोड अंकित रहेगा। साथ ही सिलेबस के अनुसार विषय वस्तु से संबंधित अन्य पाठ्य सामग्री ऑनलाइन भी उपलब्ध रहेगी। इस तरह बच्चों को भी विषय का विस्तृत ज्ञान उपलब्ध होगा।

ु

अभी पुस्तकों में जो पाठ्य सामग्री छपती है, उसी से बच्चों को पढ़ाया और समझाया जाता है, जिससे बच्चों को विस्तृत जानकारी नहीं मिल पाती है। इसी समस्या को दूर करने के लिए यह नई व्यवस्था अपनायी जा रहे हैं।बता दें कि झारखंड काउंसिल फॉर एजुकेशन एंड रिसर्च ट्रे¨नग की देखरेख में बार कोड वाले किताबों को ऑनलाइन और ऑफलाइन उपलब्ध कराने पर तेजी से काम चल रहा है। पाठ्य सामग्री को रुचिकर बनाने पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है, ताकि बच्चों को पढ़ने में उबाऊ न लगे और वे पूरी रुचि लेकर पढ़ाई करें। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

इसके लिए जिला स्तर पर डिस्ट्रिक्ट रिसोर्स ग्रुप और प्रखंड स्तर पर ब्लॉक रिसोर्स ग्रुप गठित होगा। जिसमें चयनित शिक्षक शामिल किए जाएंगे। इनका काम शिक्षकों को ट्रेनिंग देकर उन्हें सहयोग प्रदान करना होगा। इससे शिक्षकों को आने वाली समस्याओं का निदान भी किया जाने वाला है। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 

 

More From entertainment

Trending Now
Recommended