संजीवनी टुडे

Happy Birthday: पंकज उधास के जन्मदिन पर जानिए उनसे जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें...

संजीवनी टुडे 17-05-2019 11:10:36


मुंबई। एक से बढ़कर एक गजलों को गाने वाले पंकज उधास  का आज 17 मई को जन्मदिन है। हिंदी सिनेमा जगत में वो एक ऐसे गजल गायक हैं जिन्होंने हमेशा अपनी गायकी से लोगों को अपना दीवाना बनाया है। 'घूंघट को मत खोल कि गोरी घूंघट है अनमोल..', 'चुपके-चुपके रात दिन..', 'कुछ न कहो कुछ भी न कहो..जैसी अनेक गजलें उन्होंने गाई हैं। 

gfg

जानिए पंकज से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें...
बता दें कि केवल 7 वर्ष की उम्र से ही पंकज गाना गाने लगे। उनके इस शौक को उनके बड़े भाई मनहर उधास ने पहचान लिया तथा उन्हें इस रास्ते पर चलने हेतु प्रेरित किया। मनहर अक्सर संगीत से जुड़े कार्यक्रम में भाग लिया करते थे। उन्होंने पंकज को भी अपने संग शामिल कर लिया।

gfg

वार्ता के अनुसार, एक बार पकंज को एक संगीत कार्यक्रम में भाग लेने का अवसर प्राप्त हुआ। जहां उन्होंने ‘ए मेरे वतन के लोगों जरा आंख में भर लो पानी’ गीत गाया। इस गीत को सुनकर सुनने वाले भाव विभोर हो उठे। उनमें से एक ने पंकज को प्रसन्न होकर 51 रुपए दिए। 

gfg

बात 70 के दशक की है, जब पंकज ने पूर्व बार फरीदा को देखा था एवं देखते ही उनसे प्यार कर बैठे थे। उस समय वो स्नातक की पढ़ाई कर रहे थे एवं फरीदा एयर होस्टेस थी। इसी दौरान दोनों में मित्रता हुई और दोनों एक-दूसरे को डेट करने लगे। तीन एल्बम लॉन्च होने के पश्चात जब पंकज गायकी की दुनिया में काफी मशहूर हो गए तब फरीदा के पिता से उनका हाथ मांगने गए थे। 

पंकज ने एक साक्षात्कार में कहा था कि जब वह फरीदा के पिता से मिलने गए तो काफी नर्वस थे। इस मुलाकात के वक्त फरीदा के पिता ने उनसे कहा, ‘ यदि आप दोनों को ऐसा लगता है कि आप एक-साथ प्रसन्न रह पाएंगे, तो आगे बढ़ें एवं विवाह करें’। तत्पश्चात दोनों ने 11 फरवरी, 1982 को विवाह कर लिया। 

gfg

साल 1986 में प्रदर्शित फिल्म ‘नाम’ पंकज के सिने कैरियर की अहम फिल्मों में एक है। वैसे तो इस फिल्म के करीबन  सभी गीत सुपरहिट साबित हुए किन्तु उनकी मखमली आवाज में ‘चिट्ठी आई है वतन से चिटी आई है’ गीत आज भी सुनने वालों की आंखो को नम कर देता है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

इस फिल्म की कामयाबी के पश्चात उन्हें अनेक फिल्मों में पार्श्वगायन का मौका प्राप्त हुआ। पंकज अब तक 40 एल्बम हेतु पार्श्वगायन कर चुके है। इनमें नशा, हसरत, महक, घूंघट, नशा 2, अफसाना, आफरीन, नशीला, हमसफर, खूशबू एवं टुगेदर प्रमुख हैं। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From entertainment

Trending Now
Recommended