संजीवनी टुडे

तीन तलाक के खिलाफ महिला ने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया को खून से लिखा खत

संजीवनी टुडे 01-12-2016 14:00:40

Against Three divorce woman written the letter from blood to Chief Justice of India

देवास। मध्य प्रदेश के देवास जिले में एक मुस्लिम महिला ने तीन तलाक के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए सुप्रीम कोर्ट के जीफ जस्टिस को खून से खत लिखा है और न्याय की मांग की है।

देवास जिले के दत्तोतर गांव की शबाना ने बुधवार को संवाददाताओं को बताया कि उसकी हाटपिपलिया निवासी टीपू से 25 मई, 2011 को मुस्लिम रीति-रिवाज के साथ शादी हुई थी, उसकी चार साल की एक बेटी भी है, पति ने उसे तीन बार तलाक का नोटिस भेजकर 16 नवंबर, 2016 को दूसरी शादी कर ली।

शबाना ने आगे बताया कि उसने खून से चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया को खत लिखा है। इस खत में उसने लिखा है कि वह ऐसे पर्सनल लॉ को नहीं मानती, जिससे मेरा और बेटी का भविष्य खराब हो।" उन्होंने देश के कानून में भरोसा जताते हुए लिखा है कि ट्रिपल तलाक के कानून को रद्द किया जाए और मुझे न्याय दिलाया जाए।"

शबाना ने बताया है कि उसने नर्सिंग की पढ़ाई की है और पति खेत में काम कराना चाहता था। खेत मे काम करने से मना करने पर मारपीट करता था, मैं परिवार के साथ रहना चाहती थी, मगर उसने ऐसा नहीं होने दिया। वहीं टीपू ने संवाददाताओं से कहा कि उसके परिवार ने शबाना को कई बार बुलाया, मगर वह घर आने को तैयार ही नहीं हुई। उसने आरोपों का झूठा करार दिया है।

यह भी पढ़े : INTERVIEW देने गया था ये कपल लेकिन हुआ वो जो कर देगा हैरान, VIDEO

यह भी पढ़े: खूबसूरत फिगर की चाह में तोड़ दीं सारी हदें, कमजोर दिलवाले नही देखे यह तस्वीरें...

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: दामाद से परेशान ! सास को रात को गंदे वाले मैसेज करता था दामाद, फिर एक रात सास ने.... ये तो

More From national

loading...
Trending Now
Recommended