संजीवनी टुडे

पति की हरकतों से आ गई थी तंग, इसलिए उठाया ऐसा कदम...

संजीवनी टुडे 06-11-2017 15:34:48

Tired of husbands antics came so stepped up

बिहार। प्रिया रानी उर्फ प्रिया आशिक उर्फ फातिमा के दिल्ली से भागने की कहानी में लगातार एक के बाद एक नया ट्विस्ट आ रहा है। NRI बिनोद कुमार की पत्नी प्रिया रानी ने पिछले दिनों दावा किया था कि वह ओमान में अपने पति बिनोद की हरकतों से तंग आ गई थी। उसे ओमान से भगा दिया गया था और इसके बाद वह किसी तरह भारत पहुंची और सादिक (युवक) के संपर्क में आई। 

 

जमशेदपुर के मानगो थाना में चिंतित मुद्रा में प्रिया रानी 

बिनोद और उसके दोस्तों के मुताबिक, प्रिया ने ओमान में आत्महत्या की कोशिश की थी। लेकिन, इसकी वजह बिनोद नहीं था। इसकी वजह प्रिया के विवाहेतर संबंध थे। बिनोद के मुताबिक, शादी के बाद उनके 2 बच्चे हुए। बच्चों के जन्म के बाद उनकी जिंदगी काफी खुशहाल थी। लेकिन, एक दिन उन्होंने प्रिया के फोन में एक मैसेज देखा।

यह भी पढ़े: वीडियो: विदेश में फंसे भारतीय, लोगों से की मदद की गुहार

मैसेज भेजने वाले ने लिखा था, ‘कॉल मी’।   उस नंबर पर कॉल किया, तो सादिक उर्फ मुन्ना ने फोन उठाया और बिनोद को भद्दी-भद्दी गालियां देने लगा। इस संबंध में बिनोद ने प्रिया से बात की, तो उसने नींद की गोलियां खा ली। उसे तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया और काफी खर्च के बाद उसकी जान बच सकी। बिनोद के मुताबिक, ‘मैंने कभी प्रिया को टॉर्चर नहीं किया। मैनें इतना जरूर पूछा था कि जब शादी मुझसे हुई है, तो फिर तुम्हारे पराये मर्द के साथ संबंध क्यों हैं?  

यह भी पढ़े: वीडियो: पत्रकार पर क्रोधित हुई राधे मां, सुनाई खरी खोटी

मानगो थाना में सादिक उर्फ मुन्ना

बिनोद के मुताबिक, वर्ष 2010 में जब वे लोग ओमान से भारत लौटे थे, जब उनके पिता की मृत्यु हो गई थी, प्रिया पेट से थी। उनके ओमान लौटने के बाद प्रिया ने बगैर उन्हें जानकारी दिए गर्भपात करा लिया। बिनोद के मुताबिक, अक्तूबर, 2010 में जब प्रिया ओमान जाने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंची, उस समय सादिक दिल्ली में ही रहता था और उसी के साथ वह इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से अपने ससुर की आंखों में धूल झोंककर बच्चों के साथ भाग गई। 

विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक, सादिक ने प्रिया के दोनों बच्चों को अपना लिया।  सादिक नहीं चाहता था कि प्रिया के और बच्चे हों। इसलिए प्रिया ने ऑपरेशन करा लिया। बिनोद के मुताबिक, वर्ष 2014 में जब वह अपनी पत्नी और बच्चों को पाने की ख्वाहिश लिये जमशेदपुर के मानगो थाना पहुंचे, तो उन्हें उनके बच्चों से नहीं मिलने दिया गया। प्रिया अब दावा कर रही है कि तब एक सुलहनामा हुआ था, जिसमें बिनोद से कहा गया था कि वह अपनी पत्नी को छोड़ दे। बिनोद के मुताबिक, कोई सुलहनामा हुआ ही नहीं था। उन्हें तो उनके बच्चों तक से नहीं मिलने दिया गया। 

उस समय प्रिया ने थाना में कहा था कि उसने अपना धर्म बदल लिया है। उसने इस्लाम कुबूल कर लिया है। अब वही प्रिया कह रही है कि उसने अपना धर्म परिवर्तन नहीं किया। बच्चों के धर्म परिवर्तन के बारे में प्रिया ने कहा है कि उसके बच्चों का धर्मांतरण नहीं कराया गया है। चूंकि अभिभावक का नाम मुस्लिम था, इसलिए बच्चों के नाम बदलने जरूरी थे।  सिर्फ उनके नाम बदले गए हैं, धर्म परिवर्तन नहीं कराया गया है। लेकिन, गुप्त सूत्रों के मुताबिक, बिनोद और प्रिया के बेटे आलोज राज का खतना करवा दिया गया है।

हालांकि, इसकी पुष्टि नहीं हुई है, क्योंकि बच्चों का मेडिकल टेस्ट नहीं कराया गया है। इस बीच, सादिक का पूरा परिवार जमशेदपुर पहुंच चूका हैं। लेकिन, प्रिया के माता-पिता या उनके मायके का कोई रिश्तेदार उनसे मिलने नहीं पहुंचा है।  प्रिया के पिता के मुताबिक, जिस दिन उनकी बेटी उनकी आंखों में धूल झोंककर दिल्ली के IGI एयरपोर्ट से भागी और गैर-जाति के लड़के से शादी कर ली, उसी दिन वह उनके लिए मर गई। जानकारी के मुताबिक, प्रिया के पिता बिहारशरीफ के बड़े नेता रहे हैं। 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे ! 

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

More From crime

loading...
Trending Now
Recommended