संजीवनी टुडे

Home > Editorial News

Editorial News

सिविल सेवा परीक्षाः लगातार घटते हिन्दी माध्यम के सफल अभ्यर्थी
संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने अपनी परीक्षा 2019 के परिणामों की घोषणा कर दी है। उसमें कुल 829 उम्मीदवारों का चयन हुआ है
सदियों का इंतजार खत्म, रामभक्तों की असल परीक्षा तो अब शुरू
1528 से चला आ रहा इंतजार खत्म हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूमिपूजन कर राममंदिर निर्माण की औपचारिक शुरुआत कर दी। साथ ही अपना संकल्प भी जाहिर कर दिया- राम काज कीन्हे बिना मोंहि कहाँ विश्राम
`श्रीराम` की तरह `कुश` ने भी किया था `अग्निबाण संधान`
- अयोध्या की नाभि या उर्जास्थल पर कुश ने स्थापित किया था नागेश्वरनाथ मंदिर
असहयोग आंदोलन ने रखी थी आजादी की नींव
एक अगस्त का दिन भारत के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि 1 अगस्त 1920 को अंग्रेजों के अत्याचार के खिलाफ गांधी जी द्वारा असहयोग आंदोलन शुरू किया गया था।
फिल्मी दुनिया के रंगीन पर्दे के पीछे का सच !
प्रायःभयंकर गर्मी से त्रस्त हम भारतीय दर्शकों के सामने मनोरंजक,मधुर संगीत से सराबोर,हास्य और आमोद-प्रमोद से भरपूर, हिमालय या स्विट्जरलैंड की हरी-भरी वादियों व बर्फ से आच्छादित चोटियों पर सुघड़, चिकने-चुपड़े, गोरे, हँसमुख चेहरेवाले एक हिन्दी फिल्मों के हीरो को एक सुन्दर सी चंचल, शोख, हसीन कमनीय कायावाली, खिलखिलाती, सुन्दर-सलोनी हिरोइन के साथ दौड़ते, भागते, अठखेलियाँ करते, ठिठोली करते पाँच-पाँच मिनट के पूरे फिल्म में बार-बार दिखनेवाले मंत्रमुग्ध कर देनेवाले फिल्मों गानों को देखकर लगभग सभी लोग यह कल्पना कर बैठते हैं
आधुनिक दौर में फीका पड़ता त्योहारों का स्वरूप
हमारा भारत देश उत्सवों का देश हैं पूरे वर्षभर में भारत में किसी न किसी त्योहार का सिलसिला चलता रहता हैं हर माह किसी न किसी त्योहार का संदेश लेकर आता हैं और यही त्योहार हमें जीवंत बनाते हैं ऊर्जा का संचार करते हैं उदास मन में आशाओं को जागृत करते हैं
VIDEO : आसान भाषा में जानिए क्या है नई शिक्षा नीति का 5+3+3+4 फार्मूला...
आसान भाषा में जानिए क्या है नई शिक्षा नीति का 5+3+3+4 फार्मूला...
देशी बोली ठोली के प्रगतिशील रचनाकार थे मुंशी प्रेमचंद
उपन्यास सम्राट मुंशी प्रेमचंद का जन्म 31 जुलाई 1880 को काशी से चार मील दूर बनारस के पास लमही नामक गाँव में हुआ था। 31 जुलाई को उनकी 140 वीं जयंती है। उनका असली नाम धनपतराय था ।
गांवो में मिले रोजगार को बढ़ावा
कोरोना वायरस के कहर के चलते पूरे देश का जनजीवन रुका पड़ा है। देश में बड़ी संख्या में उद्योग धंधे व अन्य व्यावसायिक गतिविधियां बंद पड़ी हैं।
शिक्षा जगत में ‘फेल‘ शब्द की हुई विदाई
कोई शब्द कितना अपने आप में कठोर हो सकता है। वह भी सिर्फ बच्चों की प्रतिभा और उनके वर्षभर का आंकलन करने के लिए आवष्यक भी है। जी, हांॅ मैं बात कर रहा हूॅं ‘फेल‘ शब्द की।
कोरोना काल में राममंदिर का शिलान्यास
राम मंदिर को लेकर दुनिया भर के लोगों का इंतजार अगले चंद दिनों में खत्म होने जा रहा है। आनेवाले 05 अगस्त को अयोध्या में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे यह पल देखने के लिए करोड़ों लोग बेहद उत्सुक हैं लेकिन कोरोना काल के चलते इस मौके पर केवल दो सौ लोगों की ही उपस्थिति रहेगी।
मरुभूमि पर टिड्डियों का छापामार हमला जारी
मरुभूमि केवल सियासी संग्राम का रणक्षेत्र ही नहीं बना है अपितु यहाँ खतरनाक टिड्डियों का छापामार हमला भी बदस्तूर जारी है। राजस्थान का खुला आसमान लगता है टिड्डी दलों को भा गया है।

<< 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 ... Next >>
Recommended