संजीवनी टुडे

रोजाना प्रेमी के व्हाट्सएप पर चैटिंग करती थी पत्नी, एक रात अचानक खुली पति की आंख और फिर...

संजीवनी टुडे 20-01-2020 13:03:12

हाल ही में जुर्म का एक मामला यूपी के आगरा से सामने आया है।


आगरा। हाल ही में जुर्म का एक मामला यूपी के आगरा से सामने आया है। इस मामले एक जूनियर टेलीफोन ऑफिसर के कत्ल में पुलिस महीने भर में ही आरोप पत्र दाखिल करने की तैयारी कर रही है तथा इसके लिए साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं। वहीं जेल भेजी गई जेटीओ की पत्नी एवं उसके प्रेमी के मोबाइल से महत्वपूर्ण सबूत प्राप्त हुए हैं और पति के सो जाने के पश्चात पत्नी अपने प्रेमी से व्हाट्सएप पर चैटिंग करती थी तथा रात 12 से तीन बजे तक उनके मध्य हुई चैटिंग की सूचना भी पुलिस को मिली है। 

मामले में इन्ही सबूतों को अदालत में पेश किया जाएगा। मामले में पुलिस के मुताबिक, ''शाहगंज इलाके के पंचशील कॉलोनी, दौरैठा नंबर एक निवासी वीरेंद्र कुमार पुत्र नाथूराम का कत्ल चार जनवरी की रात को कर दिया गया था। उनका शव बीते रविवार तड़के लगभग चार बजे घर से 400 मीटर दूर सौ फीट रोड पर पड़ा हुआ प्राप्त हुआ था। मृतक के भाई सुशील कुमार वर्मा ने अज्ञात में कत्ल का मुकदमा दर्ज कराया था।

यह खबर भी पढ़े:बारात लेकर आ रहा था दूल्हा, अचानक रास्ते में घटी ऐसी घटना जानकर हर कोई रह गया दंग

पुलिस ने 48 घंटे में हत्याकांड का  भंडाफोड करते हुए मृतक की पत्नी भावना, उसके प्रेमी कपिल एवं मनीष को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया।'' वहीं आगे पुलिस की माने तो, ''भावना का पीहर गढ़ी भदौरिया में है। वीरेंद्र से उसके विवाह को 14 वर्ष व्यतीत हो चुके हैं। उनके दो बच्चे हैं। महिला के मोबाइल की कॉल डिटेल, व्हाट्सएप चैटिंग के संबंध में पुलिस ने उसका बयान भी दर्ज किया। 

जेल जाने से पूर्व उसने कहा कि वो जिस मोबाइल से जेई कपिल से बात करती थी, वो पति ने उसके जन्मदिन पर उपहार स्वरूप प्रदान किया था। कपिल को डर था कि कहीं वीरेंद्र को संदेह  हो गया और उसने प्रेमिका के मोबाइल की कॉल डिटेल निकलवाई तो भेद खुल जाएगा, इसलिए एक वर्ष पूर्व ही उसने प्रेमिका को अपने नाम से खरीदकर सिम कार्ड दिया था। 

जो मोबाइल भावना को पति ने  उपहार में दिया था, उसी से प्रेमी से चैटिंग कर कत्ल की साजिश रची थी।'' मामले में पुलिस के मुताबिक, कपिल के पास तीन सिम कार्ड प्राप्त हुए है और एक भावना से बात करने हेतु था, दूसरा अन्य लोगों से बात करने हेतु एवं तीसरा वीरेंद्र को फोन करने हेतु खरीदा गया था। उसने उसे इसी से फोन कर बुलाया गया था व इसके बाद मौत के घाट उतार दिया। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From crime

Trending Now
Recommended