संजीवनी टुडे

महादलित परिवार की बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार एवं माता-पिता एवं भाई की निर्मम हत्या, अदालत ने...

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 21-11-2019 05:20:00

महादलित परिवार के घर में जबरन घुसकर नाबालिग बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था और विरोध करने पर बच्ची के माता-पिता एवं भाई की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी थी।


भागलपुर। बिहार में भागलपुर जिले की एक अदालत ने महादलित बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार एवं उसके माता-पिता समेत परिवार के तीन सदस्यों की निर्मम हत्या के मामले में आज चार दोषियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

यह खबर भी पढ़ें: ​BJP के बागी विधायक को झामुमो ने सिंदरी विस सीट से बनाया उम्मीदवार

लैंगिक उत्पीड़न से बच्चों के संरक्षण का अधिनियम (पॉक्सो) अदालत के न्यायाधीश विनोद कुमार तिवारी ने यहां मामले में दोनों पक्षो की दलीले सुनने के बाद आरोपित बलराम राय, मोहन सिंह, कन्हैया झा और मोहम्मद महबूब को भारतीय दंड विधान की विभिन्न धाराओं में दोषी करार देने के बाद यह सजा सुनाई है। 

अदालत ने सभी दोषियों पर 50-50 हजार रुपये का जुर्माना भी किया है। मामले के अनुसार, दोषियों ने जिले के बिहपुर थाना क्षेत्र के झंडापुर गांव में 25 नवंबर 2017 की रात में एक महादलित परिवार के घर में जबरन घुसकर नाबालिग बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था और विरोध करने पर बच्ची के माता-पिता एवं भाई की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From crime

Trending Now
Recommended