संजीवनी टुडे

एसटीएफ ने किया फेसबुक पर दोस्ती कर ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 07-09-2019 19:30:03

करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले विदेशी गिरोह का पर्दाफाश करते हुए उसके सरगना व्सपअमत नरवउं न्हवबीन ज्ञून को नई दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर लोगो से राष्ट्रीय स्तर पर करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले विदेशी गिरोह का पर्दाफाश करते हुए उसके सरगना व्सपअमत नरवउं न्हवबीन ज्ञून को नई दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।

यह खबर भी पढ़ें: ​​अपने प्रदर्शन से संतुष्ट हूं ,लेकिन और मेहनत की जरुरत : अंजुम

एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने शनिवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर जनता के लोगाें से ठगी करने वाले नाईजीरियन गिरोह का पर्दाफाश कर गैंग के सरगना व्सपअमत न्रवउं न्हवबीन ज्ञून काे एसटीएफ की टीम ने शुक्रवार को नई दिल्ली के देवली एक्सटेंशन से गिरफ्तार किया । उसके पास से एक लैपटाॅप, पासपोर्ट नाईजीरिया का, आठ माेबाईल फोन मय सिम कार्ड,डोंगल, तीन एटीएम कार्ड, पेन ड्राइव आदि बरामद किया।

उन्होंने बताया कि फेसबुक पर फर्जी प्राेफाइल बनाकर पुरूषों से महिलाओं द्वारा और महिलाओं से पुरूषाे द्वारा ठगी करने वाले नाईजीरियन गिरोह के सक्रिय हाेने की सूचनाएं प्राप्त हाे रही थीं। इस सम्बन्ध में गिरोह को पकड़ने के लिए एसटीएफ की विभिन्न टीमों को लगाया गया था। उन्होंने बताया कि इसी क्रम जानकारी मिली कि 12 जून को रमेश चन्द्र शुक्ल निवासी पुराना हैदरगंज ने बाजारखाला थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। उसने बताया कि वह विदेश जाने के लिए इंटरनेट पर जानकारी ले रहा था कि इसी बीच एक महिला ने फोन पर मित्रता करके खुद काे ज्वैलरी शाेरूम की मालकिन बताया और भारत आने की बात बताई भारत आने पर दिल्ली एयरपाेर्ट पर कस्टम आफिसर द्वारा माल पकड़े जाने की बात कह कर फर्जी कस्टम अधिकारी से बात कराकर 68,000 रूपये उसने अपने खाते में जमा करा लिये, फिर

1,85,000 जमा करा लिया। महिला ने कहा कि वह पूरा पैसा लखनऊ आकर वापस दे देगी। कुछ देर बाद ही उससे छह लाख रुपये की मांग की गयी ताे उसकी समझ में आया कि वह धाेखाधड़ी का शिकार हाे गया है।

श्री मिश्र ने बताया कि इस मामले के खुलासे के संबंध में एसटीएफ ने अपनी टीम लगाई। उन्होंने बताया कि सटिक जानकारी मिलने पर एसटीएफ की टीम ने 284 गली न0 एक देवली एक्सटेशन थाना टिग्री नई दिल्ली में एक मकान पर दबिश देकर गिरोह सरगना काे गिरफ्तार किया।

गिरफ्तार ठग ने बताया कि वह 2012 में नाइजीरिया से आकर दिल्ली में रह रहा है यही उसने मेघालय की रहने वाली महिला से शादी कर ली, जिसके साथ मिलकर फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर लोगों से धाेखाधड़ी कर रहा है जिसमें कुछ नाइजीरियन युवक-युवतियों के साथ भारतीय भी शामिल हैं। उसने बताया कि गिरोह के सदस्य फेसबुक व अन्य साेशल मीडिया एप से सुन्दर युवक युवतियों के फोटाें निकाल कर अमीराे और सुन्दर युवक युवतियों की प्रोफाइल बनाकर पुरूषों से विदेशी महिलाएं और महिलाओं से विदेशी पुरूष बनकर दाेस्ती कर लेते है फिर अपने अपने प्राेफाइल के अनुसार मोबाइल तथा फेसबुक के माध्यम से लोगों काे प्रेमजाल मे फंसाते हैं।

गिरोह के सदस्य भारत उनसे मिलने आने और उनके लिए रूपये तथा महंगे गिफ्ट लाने की बात कहकर एयरपोर्ट पर जाे रूपये व माल उनकाे गिफ्ट के रूप मे देने के लिए अपने देश से लाये थे पकडे जाने का झांसा देकर, फर्जी कस्टम अधिकारियों से बात कराकर गिफ्ट काे छुुडाने का लालच देकर अलग अलग बैंक खातों मे रूपये जमा करा लेते है। 

गिरोह द्वारा ये बैंक खाते किराये पर लिए जाते हैं जो भारतीय लोगाें के होते हैं जिससे लोगाें काे विश्वास हो जाता कि उनके द्वारा जो रूपये जमा किया जा रहा है वह भारतीय कस्टम अधिकारियों के खाताें में जा रहा है। उपरोक्त गैंग द्वारा अब तक लगभग सैकडों लोगाें से कराेड़ाे की ठगी की जा चुकी है। पुलिस गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है। पकड़े गये गिरोह सरगना को लखनऊ के बाजारखाला थाने में आज दाखिल करा दिया गया है। आगे की कार्रवाई बाजारखाला पुलिस द्वारा की जा रही है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From crime

Trending Now
Recommended