संजीवनी टुडे

नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म व अश्लील वीडियो बनाने के मामले में छह आरोपी गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 05-08-2020 06:18:00

कांगड़ा जिला के नगरोटा बगवां थाना के तहत एक नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म व अश्लील वीडियो बनाने के मामले में पुलिस ने छह युवकों को गिरफ्तार किया है।


धर्मशाला। कांगड़ा जिला के नगरोटा बगवां थाना के तहत एक नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म व अश्लील वीडियो बनाने के मामले में पुलिस ने छह युवकों को गिरफ्तार किया है। युवकों के मोबाइल भी सीज कर दिए हैं और उन्हें मोबाइल फॉरेंसिंक जांच को भेजा जाएगा। नगरोटा बगवां थाना में नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला बीते सोमवार शाम को ही दर्ज किया था। 

हालांकि मामला पिछले माह चार जुलाई का बताया जा रहा है, लेकिन धमकी से सहमी लड़की ने एक माह इस बारे मुंह नहीं खोला। अब जब वीडियो वायरल हुआ तो पुलिस में शिकायत की है। पुलिस ने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए देर रात सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। सभी आरोपी लड़की के गांव के ही हैं और सभी बालिग हैं।

पुलिस को दी गई शिकायत में लड़की ने बताया कि वह अपने दोस्त के साथ स्कूटी पर अपने घर की तरफ जा रही थी। रास्ते में कुछ युवकों ने उन्हें रोक लिया। उनसे मारपीट की व नाबालिग के साथी युवक को डरा धमका कर भगा दिया। इसके बाद लड़की के साथ अश्लील हरकतें की गई तथा बाद में नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म भी किया। इस दौरान आरोपियों ने लड़की का अश्लील वीडियो भी बनाया व धमकी दी कि अगर इस बारे किसी को बताया तो जान से मार देंगे। डरी सहमी लड़की ने एक माह तक यह बात किसी से नहीं बताई। कुछ दिन से वीडियो वायरल होने पर कल इस मामले में नगरोटा बगवां थाना में शिकायत दर्ज करवाई। 

पुलिस ने मामले की छानबीन करते हुए निशानदेही पर छह युवकों को गिरफ्तार किया, जिन्हें मंगलवार को कोर्ट में पेश किया गया है जहां से उन्हें चार दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। सात अगस्त को उन्हें दोबारा कोर्ट में पेश किया जाएगा।

उधर एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन ने सामूहिक दुष्कर्म के इस मामले को लेकर बताया कि नगरोटा बगवां थाना के तहत एक नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म व अश्लील वीडियो बनाने के मामले में पुलिस ने छह युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि इन सभी के मोबाइल सीज कर दिए हैं तथा इन्हें जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा जाएगा। 

उन्होंने बताया कि इस मामले में आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, 376-ए, 354बी और सी, पोस्को एक्ट सेक्शन 6 तथा आईपीसी 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

उन्होंने बताया कि अगर इस वीडियो को आरापियों द्वारा सोशल मीडिया में आगे भेजा गया होगा तो उनके खिलाफ अलग सैक्शन के तहत मामला दर्ज होगा। वहीं उन्होंने लोगों को आगाह किया है कि इस तरह के वीडियो का आगे शेयर न करें तथा इसकी जानकारी तुरंत पुलिस को दें अन्यथा उन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From crime

Trending Now
Recommended