संजीवनी टुडे

बलात्कार के आरोपित को आजीवन कारावास की सजा

संजीवनी टुडे 22-05-2019 20:56:02


बड़वानी। बड़वानी के विशेष न्यायाधीश दिनेशचन्द्र थपलियाल द्वारा पारित आदेश में अनुसूचित जाति की युवती को बहला-फुसलाकर बलात्कार करने के आरोपित कान्हा पुत्र अनिया निवासी ग्राम उचावद को दोषी ठहराते हुए आजीवन कारावास की सजा और नौ हजार रुपये के अर्थदण्ड से दंडित किया है। विशेष लोक अभियोजक हेमेन्द्र कुमरावत ने बुधवार को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि 02 अक्टूबर 2017 को ग्राम उचावद में अनुसूचित जाति की युवती अपने घर से शौच के लिए रात्रि के समय बाहर गई थी, तभी आरोपित ने उसको बहला फुसलाकर, शादी का लालच देकर अपने साथ ग्राम बजट्टा ले गया था, जहां पांच दिन तक युवती के साथ उसने बलात्कार किया। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

युवती मौका देखकर ग्राम बजट्टा से भाग कर अपने घर आ गई तथा घर आकर उसने अपने परिजनों को आपबीती सुनाई। युवती के पिता द्वारा थाना अंजड़ पर युवती की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी। अंजड़ पुलिस द्वारा अपराध पंजीबद्ध किया गया। सम्पूर्ण विवेचना पश्चात् अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया गया। विशेष न्यायाधीश ने आरोपित कान्हा को बलात्कार का दोषी ठहराते हुए धारा 366 भारतीय दण्ड विधान में सात वर्ष का सश्रम कारावास एवं 2 हजार रुपये का अर्थदण्ड और 376 (2)(छ) में 10 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 3 हजार रुपये का अर्थदण्ड तथा 3(2)(ट) अजा/अजजा अत्याचार निवारण अधिनियम में आजीवन कारावास तथा 4 हजार रुपये का अर्थदण्ड से दण्डित किया है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From crime

Trending Now
Recommended