संजीवनी टुडे

नहीं थम रही है बैंक खातों में सेंधमारी, फेककॉल कर लोगों के खाते से निकाली जा रही है रकम

संजीवनी टुडे 03-07-2019 21:16:05

साइबर ठगों द्वारा लोगों के बैंक खाते से रुपये निकालने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है।


जयपुर। साइबर ठगों द्वारा लोगों के बैंक खाते से रुपये निकालने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। कभी बैंक प्रतिनिधि बन तो कभी एटीएम पर रुपये निकालने की तो कभी वेरीफिकेशन के नाम पर तो कभी एटीएम खाता बंद करने की की बात कर लोगों के खून पसीने की कमाई लूटी जा रही है। इस तरह की ठगी करने वाला गैंग काफी शातिर है और हर वारदात को सिमकार्ड बदल कर अंजाम देता है। यह ठग फोन पर खाते की जानकारी लेकर आनलाइन शॉपिंग कर रहे हैं। शहर में रोजाना एक ना एक थाने इस तरह के मामले दर्ज हो रहे है। पुलिस मामला दर्ज कर केवल जांच ही कर रही है।

मालवीय नगर थाने में शिव गोरक्ष नगर निवासी विजय सिंह ने बुधवार को रिपोर्ट दर्ज कराई है कि ओएलएक्स पर स्कूटी का विज्ञापन देख दिए गए नंबरों पर फोन किया। व्यक्ति ने अपने आपको जोधपुर में आर्मी में होना बताया। सौदा 19 हजार रुपये में तय हुआ। विश्वास में दिलाने के लिए व्यक्ति ने आधार कार्ड, आरसी की कॉपी, आर्मी कैंटीन के कार्ड की फोटो भेजी। व्यक्ति ने 2300 रुपये बुकिंग और 1100 रुपये अन्य कार्य के लिए मांगे। पीड़ित ने आनलाइन पैमेंट ऐप के माध्यम से रुपये डाल दिए। इसके बाद व्यक्ति ने झांसे में लेकर पीड़ित से 13 बार में 50900 रुपये डलवा लिए। बाद में फोन उठाना बंद कर दिया, जिसके बाद पीड़ित को ठगी का अहसास हुआ।

प्रताप नगर थाने में हरे कृष्णा मूवमेंट अक्षय पात्र मंदिर के प्रबंधक राजेश कौशिक ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि हरे कृष्णा मूवमेंट के लैंडलाइन पर किसी व्यक्ति का फोन आया। उसने कहा कि वह डोनेशन देना चाह रहा है। इसके लिए अकाउंट नंबर दे दो। कैशियर ने अकाउंट नंबर देना चाहा तो उसने आनलाइन पैमेंट ऐप का नंबर मांगा। पीड़ित ने आनलाइन पैमेंट ऐप का नंबर दे दिया। थोड़ी देर बाद में ऐप नंबर से फोन आया और व्यक्ति ने कहा कि उसने अमाउंट ट्रांसफर कर दिया है आर्डर नंबर दे दो। जैसे ही पीड़ित ने आर्डर नंबर दिया खाते से 45998 रुपये निकल गए।

जयपुर में एक मोबाइल टॉवर लगाने के नाम पर ठगी करने वाला नया गिरोह सामने आया है। गिरोह की खास बात यह है कि इसमें एक शातिर महिला भी शामिल है। जिसने अपने साथियों के साथ मिलकर शहर के एक शख्स से 13 लाख रुपए ठग लिए और इसके बाद भूमिगत हो गए। जिनको पुलिस भी ढूंढ नहीं पा रही है।

इसके अलावा सांगानेर थाने में कपिल विहार निवासी ताराचंद पारीक ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसके पास एक व्यक्ति का फोन आया जिसने खुद को एसबीआइ बैंक का अधिकारी बताया और कहा कि आपका एटीएम ब्लॉक हो गया है, क्या इसे चालू करवाने चाहेंगे। तो पीड़ित ने हां बोल दी। इसके बाद एटीएम की पूरी जानकारी पूछ ली और कहा आपके मोबाइल पर ओटीपी आया है, उसे बता दो। पीड़ित ने ओटीपी बता दिया। बदमाश ने कहा कि ओटीपी बताने पर आपके खाते से एक रुपए भी नहीं कटेगा बस अकाउंट में 290 रुपये होने चाहिए। इसके बाद पीड़ित के खाते से तीन बार में 35 हजार रुपये निकल गए।

मानसरोवर थाने में अयोध्या पथ निवासी परविन्द्र सिंह ने बुधवार को रिपोर्ट दर्ज कराई है कि ओएलएक्स पर बाइक का विज्ञापन देखकर बुक करवाई। बेचने वाले खुद को आर्मी का बताकर संजय सिंह के नाम की पार्सल स्लिप भेजी। शुरूआत में गाड़ी के कागजात करवाने के नाम पर पांच हजार रुपये, फिर इंश्योरेंस करवाने आदि का बहाना लगाकर 59100 रुपये हड़प लिए। इसके बावजूद पीड़ित को बाइक नहीं मिली और बाद में बदमाश ने फोन उठाना बंद कर दिया।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From crime

Trending Now