संजीवनी टुडे

निर्भया कांड: दोषियों को कभी भी मिल सकती है फांसी, तैयारियां हुई शुरू

संजीवनी टुडे 09-12-2019 15:49:01

निर्भया के दोषियों की दया याचिका अस्वीकृत होने के पश्चात अब उनकी फांसी की तैयारियां प्रारंभ हो गई हैं।


नई दिल्ली। निर्भया के दोषियों की दया याचिका अस्वीकृत होने के पश्चात अब उनकी फांसी की तैयारियां प्रारंभ हो गई हैं। हालांकि, इसमें सबसे बड़ा पेंच जल्लाद की खोज है क्योंकि तिहाड़ जेल में फांसी हेतु कोई जल्लाद नहीं है। इसी मध्य फांसी की तारीख को लेकर भी अनेक मीडिया रिपोर्ट्स समक्ष  आ रही हैं, जिसमें दिसंबर 2019 का ही एक दिन फांसी हेतु तय कहा जा रहा है।

खबरों की माने तो, निर्भया के दोषियों को उसी दिन सजा दी जा सकती है जिस तारीख को उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था जिसमें उसकी जान चली गई। बताया जा रहा है कि निर्भया के दोषियों 16 दिसंबर को ही सवेरे 5 बजे फांसी दी जा सकती है।

यह खबर भी पढ़े:पहली पत्नी को तलाक नहीं दिया तो दूसरी पत्नी ने काट डाला पति का प्राइवेट पार्ट और उसके बाद...

हालांकि, इस बात की पुष्टि अभी जेल प्रशासन ने नहीं की है, किन्तु सूत्रों की माने तो, फांसी की तारीख  करीबन तय है। तिहाड़ प्रशासन को केवल जल्लाद मिलने की देरी है। निर्भया से सामूहिक बलात्कार एवं हत्या के अपराध में मौत की सजा पाए तिहाड़ में बंद दोषियों को फांसी हेतु अधिकारियों को जल्लाद नहीं मिल रहा है। सूत्रों की माने तो इसलिए अधिकारी जल्लाद की खोज में देश की दूसरी जेलों के चक्कर काट रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यूपी के जेल अधिकारियों से इस संबंध में अनौपचारिक बातचीत चल रही है। उल्लेखनीय है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बीते शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से एक दोषी विनय शर्मा की दया याचिका खारिज करने की खुशामद की थी। हालांकि उसके अगले दिन शर्मा ने ये बोलते हुए दया याचिका वापस ले ली थी, कि याचिका बिना उसकी सहमति के भेजी गई थी।

उल्लेखनीय है कि 16 दिसंबर, 2012 को निर्भया संग 6 दरिंदों ने चलती बस में सामूहिक बलात्कार किया था। छह में से एक दोषी नाबालिग था जो अब छूट चुका है एवं गुमनामी का जीवन व्यतीत कर रहा है। वहीं एक आरोपी रामसिंह ने तिहाड़ में ही  खुदकुशी कर ली थी। अब 7 वर्ष के पश्चात बचे चार दोषियों को शीघ्र ही फांसी के फंदे पर लटका दिया जा सकता है।

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From crime

Trending Now
Recommended