संजीवनी टुडे

लापरवाही: नाबालिग बच्ची के अपहरण का आरोप‍ित पकड़ से बाहर

संजीवनी टुडे 15-07-2020 05:01:00

जिले के थाना केशकाल के अन्तर्गत ग्राम जामगांव के आमापारा निवासी सुरेंद्र समरथ जो कि वर्तमान में भारतीय थल सेना की बिहार रेजिमेंट में कार्यरत हैं


कोण्डागांव। जिले के थाना केशकाल के अन्तर्गत ग्राम जामगांव के आमापारा निवासी सुरेंद्र समरथ जो कि वर्तमान में भारतीय थल सेना की बिहार रेजिमेंट में कार्यरत हैं, ने 2 मई 2020 को थाने में आकर लिखित जानकारी दी कि 1 मई 2020 की अर्धरात्रि में उनकी सात वर्षीय पुत्री का अपहरण कर लिया गया है। विगत दो माह से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी केशकाल पुलिस द्वारा जांच कार्यवाही में बरती गई लापरवाही के कारण से अज्ञात आरोपि‍त पकड़ से बाहर हैं। 

अपह्रित बच्ची के पिता सुरेन्द्र समरथ ने पुलिस अधीक्षक कोंंण्डागांव व जिलाधीश से संम्पर्क कर लिखित आवेदन देकर मांग की है कि अपने नियुक्ति स्थान पर वापस कार्य पर लौटने से पूर्व पतासाजी कर आरोपितों को गिरफ्तार किया जाये ताकि उनकी अनुपस्थिति में परिवार जनों की सुरक्षा के प्रति आश्वस्त हो कर अपने कर्तव्य पर चिन्ता मुक्त हो कर अपनी सेवायें दे सकें।

सुरेन्द्र समरथ ने मंगलवार को बताया कि उनका घर चारों ओर से ऊंची पक्की चार दिवारी से सुरक्षित है, अज्ञात लोगों द्वारा बहुत ही सोची समझी साजिश के तहत् षडयंत्र पूर्वक अपहण कर घर से मात्र एक से दो किलोमीटर दूर शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक शाला केशकाल के एक कमरे में बंद कर दिया। सहमी बच्ची ने किसी तरह अपने आप को बन्धनों से मुक्त कराया। रोने लगी तो शाला में पदस्थ भृत्य ने उसका रुदन सुन अन्य शिक्षकों को सूचित किया। जिन्होंने मिल कर अपहृत बच्ची को सुरक्षित थाने तक पहुंचाया।

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From crime

Trending Now
Recommended