संजीवनी टुडे

LIVE: संसद परिसर में नोटबंदी के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन

संजीवनी टुडे 28-11-2016 12:44:39

LIVE Parliament against the Congress performance Notbandi

नई दिल्ली। संसद में नोटबंदी पर विपक्षी दलों का हंगामा जारी है। सोमवार को 11 बजे से लोकसभा-राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई। नोटबंदी को लेकर दोनों ही सदनों में विपक्ष ने हंगामा किया। ऐसे में लोकसभा की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक, जबकि राज्यसभा की कार्यवाही 2 बजे तक स्थगित कर दी गई है। विपक्ष के हंगामे पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा की नोटबंदी पर सरकार चर्चा के लिए तैयार है। सदन में ये हंगामे की जरूरत नहीं है। अगर विपक्ष चाहती है, तो प्रधानमंत्री सदन में आएंगे और बहस करेंगे। नोटबंदी पर विपक्ष हंगामा क्यों कर रही है, बहस क्यों नहीं। नोटबंदी पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पीएम को आने दीजिए और हमसे सदन के अंदर बात करने दीजिए। 

कांग्रेसी सांसदों ने संसद परिसर में भी नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन किया। सपा सांसद मुलायम ने कहा कि नोटबंदी से किसानों को परेशानियां रही हैं हो। पीएम संसद में बयान दें। इसके पहले नोटबंदी पर संसद में सुबह 9:30 बजे से विपक्षी दलों की भी मीटिंग हुई। मीटिंग में ये तय हुआ कि नोटबंदी पर पीएम ने जो बयान दिया है, उसके लिए उन्हें विपक्ष से माफी मांगनी चाहिए। सुबह 10:30 बजे पीएम मोदी ने बीजेपी के वरिष्ठ मंत्रियों के साथ संसद में मीटिंग बुलाई। शुक्रवार सुबह 11 बजे से लोकसभा-राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई।

विपक्षी सदस्यों ने राज्यसभा में प्रधानमंत्री को बुलाने की मांग के साथ फिर हंगामा किया, जिसके बाद सदन को 2.30 बजे तक स्थगित कर दिया गया। वहीं, हंगामे के चलते लोकसभा को 28 नवंबर तक स्थगित कर दिया गया है। इस बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मोदी जी पहले हंस रहे थे, फिर रोने लगे। अपनी भावनाएं संसद में आकर दिखाएं पीएम। हंगामे के बाद राज्यसभा भी 28 नवंबर तक स्थगित कर दी गई थी।

प्रधानमंत्री पर राहुल गांधी के ये 5 वार
1. मोदी जी पहले हंस रहे थे, फिर रोने लगे।
2. संसद में आकर दिखाएं भावनाएं।
3. बहस में बैठ जाएं पीएम मोदी।
4. पीएम लोकसभा में नहीं आते।
5. पता चल जाएगा पीएम ने नोटबंदी के बारे में किस-किस को बताया।

विपक्षी दल पीएम मोदी को नोटबंदी पर बहस के लिए संसद बुलाने पर अड़े हुए हैं। सभी दलों का कहना है कि नोटबंदी से आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है। पीएम को इस पर कोई फैसला लेना चाहिए। इतना ही नहीं विपक्षी दलों ने पीएम से अपने बयान पर माफी मांगने की मांग की जिसमें पीएम ने कहा था कि विपक्ष को हमारी तैयारियों से दिक्कत नहीं हैं बल्कि नोटबंदी के ऐलान ने उन्हें तैयारी करने का मौका नहीं दिया इसलिए भड़के हैं वो।  
  
पीएम मोदी के विपक्षी दलों से माफी मांगने की मांग पर राज्यसभा में बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि पीएम ने कालेधन को लेकर अपने बयान में विपक्ष का नाम ही नहीं लिया। विपक्ष इसे मुद्दा क्यों बना रही है। वहीं। बीजेपी सांसद डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने कहा की पीएम के माफी मांगने का सवाल ही पैदा नहीं होता। सदन में चर्चा चलती रहती है, जरूरी नहीं है कि पीएम लगातार बैठे रहे। पीएम तो कारोबारी के बारे में कह रहे थे ये क्यों चिंतित हैं। विपक्ष के बारे में ये बयान नहीं दिया उन्होंने। 

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़किया- सड़क किनारे मिनी स्कर्ट में अपना बिजनेस चला रही हैं।

यह भी पढ़े: यहां लॉटरी जीतने के बाद, पैसों के बजाए मिलती हैं लड़कियां।

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़की बिना अंडरवियर के शोरूम में शॉपिंग करने पहुंची

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

More From national

loading...
Trending Now
Recommended