संजीवनी टुडे

किशारी के साथ दुष्कर्म के दोषी को आजीवन करावास की सजा, 45 हजार जुर्माना

संजीवनी टुडे 28-05-2019 19:28:11


सोनीपत। सोनीपत में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीआर चालिया की अदालत ने मकान मालिक की 14 वर्षीय बेटी को बहकाकर ले जाने के बाद दुष्कर्म करने के आरोपी प्रौढ़ को दोषी करार दिया है। दोषी को अदालत ने आजीवन कारावास व 45 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। दोषी किशोरी को कोई नशीला पदार्थ पिलाकर ले गया था और यूपी में दुष्कर्म किया था। सोनीपत के सदर थाना पुलिस को 20 मई, 2017 को एक गांव के व्यक्ति ने शिकायत दी थी कि उसकी सातवीं कक्षा में पढऩे वाली 14 वर्षीय बेटी का अपहरण कर लिया है। उसने बताया था कि यूपी के जिला मेरठ के गांव भावनपुर का रहने वाला आस मोहम्मद (55) अपनी मां के साथ उनके घर में डेढ़ साल से किराए पर रहता था। 

आरोप है कि 20 अप्रैल को उसकी बेटी लापता हो गई थी। उनका किराएदार आस मोहम्मद व उसकी मां भी गायब थे। उसने शक जताया था कि आस मोहम्मद उसकी बेटी का अपहरण कर अपने साथ ले गया है। पुलिस ने व्यक्ति के बयान पर आस मोहम्मद व उसकी मां के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कर लिया था। पीडि़त परिवार का कहना था कि आरोपी आस मोहम्मद डेढ़ साल से उनके घर में किराए पर रहता था। परिवार के सदस्यों के साथ उसका उठना-बैठना हो गया था। सदर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए लडक़ी को यूपी से ढंढ लिया था। किशारी के बयान दर्ज किए गए तो उसने बताया कि आरोपी आस मोहम्मद ने उसके साथ दुष्कर्म किया। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

वह उसे कोई नशीला पदार्थ पिलाकर ले गया था। मामले में दुष्कर्म की धारा भी जोड़ी गई। पुलिस ने आरोपी आस मोहम्मद 5 जुलाई, 2017 को गिरफ्तार कर लिया था। दो अन्य आरोपियों को भी मामले में जांच के लिए शामिल किया गया। मंगलवार को इस मामले की सुनवाई करते हुए अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीआर चालिया की अदालत ने आस मोहम्मद को दोषी करार दिया है। दोषी को आजीवन कारावास व 45 हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई गई है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188

More From crime

Trending Now
Recommended