संजीवनी टुडे

पहले मानसिक रूप से रोगी महिला को किया अगवा और उसके बाद...

संजीवनी टुडे 17-11-2019 04:30:00

कुछ ही दिन पहले जुर्म का एक मामला कोलकाता से सामने आया है जहां मानसिक रूप से बीमार औरतों हेतु बने एक आश्रय गृह की एक महिला का सड़क से अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया है।


कोलकाता। कुछ ही दिन पहले जुर्म का एक मामला कोलकाता से सामने आया है जहां मानसिक रूप से बीमार औरतों हेतु बने एक आश्रय गृह की एक महिला का सड़क से अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया है। इस मामले में पुलिस ने पिछले बुधवार को ये सूचना प्रदान की एवं उनका कहना है कि वारदात तब हुई जब औरत ताला तोड़कर बाहर चली गयी थी। 

मामले में आगे उन्होंने बोला कि, 'शहर के पंच सायर इलाके में आश्रय गृह के नजदीक की सड़क से 38 साल की औरत को कुछ व्यक्ति उठाकर जबरन कार में ले गए तथा बीते सोमवार और मंगलवार की रात उसके साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया।' वहीं औरत के घरवालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है किन्तु अब तक कोई गिरफ्तार नहीं हो सका है। 

यह खबर भी पढ़े:4 वर्षीय बालिका को खाना देने के बहाने घर से लेजाकर किया दुष्कर्म, अदालत ने सुनाया ऐसा फैसला

वहीं एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, "औरत जब पंच सायर पुलिस थाने की सीमा अंतर्गत अकेले सड़क पर घूम रही थी तभी कुछ लोग उसे जबरदस्ती वाहन के भीतर ले गए। औरत ने इल्जाम लगाया कि वे लोग उसे एक अज्ञात स्थान पर ले गए तथा एक खाली जमीन पर बाहर निकालकर वहां बार-बार उससे रेप किया। 

तत्पश्चात महिला को कार के अदंर लाकर पीटा गया और सवेरे सोनारपुर के नजदीक एक स्थान पर बाहर निकाल दिया गया।'' मामले में आगे पुलिस अधिकारी के मुताबिक, 'कुछ स्थानीय लोगों ने पीड़िता को सवेरे देखा तथा उससे बात करने के पश्चात उसे टिकट खरीदकर दिया जिससे वो ट्रेन से बालीगंज पहुंच पाए। 

पिछले मंगलवार सुबह बालीगंज स्टेशन पहुंचने के पश्चात महिला गरियाहाट स्थित अपने एक परिजन के घर पहुंची।' वहीं आगे अधिकारी ने कहा कि, ''औरत ये नहीं कह सकी कि उसके साथ कार में कितने लोग थे किन्तु इसकी संभावना है कि आरोपी औरत को जानते थे। हमने पीड़िता को चिकित्सकीय परीक्षण हेतु भेज दिया है व इलाके के सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है।"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From crime

Trending Now
Recommended