संजीवनी टुडे

नौकरी नहीं मिली तो अपराध की दुनिया में रखा कदम, हुए गिरफ़्तार

संजीवनी टुडे 20-03-2018 22:54:34

नई दिल्ली। उत्तर पूर्वी जिला में नौकरी की तलाश की लेकिन अच्छी नौकरी नहीं मिली। इसी दौरान नासिर गिरोह से प्रभावित हुए और इलाके में अपराध कर वर्चस्व कायम करने का प्रयास करने लगे। अपराधियों की पहचान रणबीर (35) और रवींद्र उर्फ मोनू पहलवान (29) के रूप में हुई है। उनके पास से पुलिस ने दो पिस्तौल और चार कारतूस भी बरामद किए हैं। दोनों विजय पार्क मौजपुर के रहने वाले हैं उन्होंने हाल में ही मामूली विवाद के बाद जीटी एंक्लेव में एक शख्स के घर के बाहर कई राउंड गोलियां चलाई थीं। 

रणबीर के खिलाफ अलग-अलग थानों में हत्या, हत्या के प्रयास, अवैध हथियार रखने के तीन मामले दर्ज हैं। वहीं, मोनू के खिलाफ फायरिंग व अवैध हथियार के मामले दर्ज हैं। जिला पुलिस उपायुक्त डॉ. एके सिंगला ने बताया कि 17 मार्च को मामूली झगड़े के बाद बाइक सवार बदमाशों ने प्रद्युम्न सिंह रावत नामक व्यक्ति के फ्लैट पर पांच राउंड गोलियां चलाई थीं। मामला दर्ज होने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए थाना पुलिस के साथ-साथ स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर विनय यादव के नेतृत्व में टीम बनाई गई।

MUST WATCH

इसी बीच सूचना मिली कि फायरिंग करने वाले बदमाश टेंट वाला स्कूल, जाफराबाद आने वाले है उससे पहले पुलिस ने उसे दबोच लिया। उन्होंने गोलियां चलाने की बात भी स्वीकार कर ली है और पूछताछ में दोनों ने बताया कि ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने नौकरी की तलाश की लेकिन कोई अच्छी नौकरी नहीं मिली। इसी दौरान नासिर गिरोह से प्रभावित हुए और इलाके में अपराध कर वर्चस्व कायम करने का प्रयास करने लगे। 

Rochak News Web

More From crime

Trending Now
Recommended