संजीवनी टुडे

पति की ओरछा में हत्या कर प्रेमी-प्रेमिका तालबेहट में ट्रेन से कटे

संजीवनी टुडे 15-03-2019 18:28:25


झांसी। कहते हैं इश्क सिर चढ़कर बोलता है। ऐसे ही एक मामले में तीन परिवार बर्बादी की कगार पर जा पहुंचे। वेबफा पत्नी ने अपने प्रेमी संग मिलकर पहले पति की हत्या की और फिर दोनों ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। इस पूरे प्रकरण में उप्र और मध्यप्रदेश के तीन थानों की पुलिस चकरघिन्नी बनी रही। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

मप्र के ओरछा थाने क्षेत्र में एक युवक की बीती शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस मामले को संज्ञान लेते हुए पड़ताल में त्रिकोणीय प्यार के बिन्दु पर पहुंची ही थी कि शुक्रवार की सुबह प्रेमी-प्रेमिका ने ललितपुर क्षेत्र में ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। 

जिला मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर स्थित चिरगांव निवासी सुनील पुत्र आशाराम कुशवाहा अपनी पत्नी पूजा के साथ गुरुवार को ओरछा घूमने गया था। ओरछा में दर्शन के बाद वे लोग ग्राम मड़ोर के सिद्धबाबा मंदिर में दर्शन करने गए थे। वहां शाम करीब 5 बजे सुनील के सिर में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी गई थी। जबकि घटना के बाद से उसकी पत्नि पूजा का गायब होना प्रेम प्रसंग के चलते वारदात की ओर इशारा कर रही थी। 

सुनील के आधार कार्ड के आधार पर उसके पिता आशाराम तक पहुंची पुलिस ने देर रात पिता की तहरीर पर मामला भी दर्ज कर लिया था। घटना की प्रारंभिक जांच के बाद पुलिस भी इस मामले को त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग मानकर इसकी जांच करने में जुट गई थी।

शुक्रवार को प्रेमी संग भागी हत्यारोपी वेबफा पत्नी ने भी कर ली आत्महत्या 
शुक्रवार को ओरछा पुलिस इस मामले की जांच को आगे बढ़ाने का विचार कर रही रही थी कि उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले स्थिति तालबेहट थाना पुलिस ने ओरछा पुलिस को सूचना दी कि रेलवे टै्रक पर एक युवक एवं युवती के शव मिले थे। इनकी शिनाख्त पुलिस ने पूजा एवं पुष्पेन्द्र कुशवाहा के रूप में की थी। पूजा की शिनाख्त करने पर पुलिस को पता चला कि यह मृतक सुनील की ही पत्नी है। इसके बाद पूरा मामला साफ हो गया।

डर कर उठाया कदमः इस मामले में निवाड़ी एएसपी एसके जैन का कहना है कि यह पूरा मामला प्रेम त्रिकोण का था। को गांव के पास रहने वाले पुष्पेन्द्र से प्रेम हो गया था। लेकिन सामाजिक बंधन उसे खुलकर पुष्पेन्द्र के साथ रहने की इजाजत नही दे रहे थे। ऐसे में पूजा ने अपने प्रेमी पुष्पेन्द्र के साथ मिलकर अपने पति सुनील को रास्तें से हटाने का यह प्लान बनाया और सिद्धबाबा पहाड़ी पर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद दोनो भाग निकले। लेकिन हत्या का यह राज जल्द ही खुल जाने के डर से इन दोनों ने रेल के नीचे आकर आत्महत्या कर ली। निवाड़ी एएसपी एसके जैन का कहना है कि पूजा और पुष्पेन्द्र की आत्महत्या के बाद यही मामला सामने आ रहा है।
दूसरी शादी थी दोनों की 

यह पूरा मामला रिश्तों के जाल में उलझा पड़ा है। एएसपी जैन ने बताया कि सुनील की पत्नी पूजा का मायका बांसी के गढ़िया गांव में है। जबकि उसका प्रेमी पुष्पेन्द्र वहीं पास के गांव परी कलां का रहने वाला था। इन दोनों के पहले से प्रेम संबंध थे। वहीं एएसपी जैन ने बताया कि सुनील और पूजा की यह दूसरी शादी थी। इसके पूर्व सुनील की भी शादी हो चुकी थी और पूजा भी पहले से शादीशुदा थी।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

सीओ तालबेहट ने इस संबंध में बताया कि शुक्रवार को युवक-युवती की लाश मिलने की सूचना मिली थी। बाद में जानकारी हुई कि बीते रोज ओरछा में हुए हत्या के मामले में फरार चल रही युवती ही पूजा है और मृतक युवक उसका प्रेमी पुष्पेन्द्र था। वहीं एसपी ललितपुर कैप्टन एमएम वेग ने बताया कि युवती के पति की हत्या का मामला ओरछा में दर्ज है। जबकि युवती पूजा ने युवक पुष्पेन्द्र के साथ ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली है। मामले में कार्रवाई जारी है।

More From crime

Loading...
Trending Now
Recommended