संजीवनी टुडे

हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की देह सुपुर्द-ए-खाक

संजीवनी टुडे 14-07-2019 19:13:34

राजसमंद जिले के भीम थाने में हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की पार्थिव देह पर रविवार को भीलवाड़ा में एसपी हरेंद्र कुमार महावर, एएसपी दिलीप सैनी सहित कई अधिकारियों ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।


राजसमंद/ भीलवाड़ा। राजसमंद जिले के भीम थाने में हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की पार्थिव देह पर रविवार को भीलवाड़ा में एसपी हरेंद्र कुमार महावर, एएसपी दिलीप सैनी सहित कई अधिकारियों ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। राजसमंद जिले में भीम थाने के हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की पार्थिव देह को रविवार को भीलवाड़ा के पुलिस लाइन में लाया गया। इस दौरान भीलवाड़ा पुलिस के साथ कई आला अधिकारियों ने पार्थिव देह पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद पार्थिव देह को उनके घर पहुंचाया गया। पार्थिव देह के भीलवाड़ा पहुंचने पर पुलिसकर्मियों के साथ ही क्षेत्रवासियों की आंखें नम हो उठी। भीम थानाधिकारी नवल किशोर ने बताया कि भीम थाने के हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी शनिवार शाम बरार ग्राम पंचायत में जमीन विवाद के एक मामले में अनुसंधान करने के लिए गए थे। इसी दौरान वहां मौजूद कुछ लोगों ने पीट-पीटकर उनकी हत्या कर दी थी। इसके बाद उनकी पार्थिव देह को पोस्टमार्टम के बाद भीलवाड़ा लाया गया। 

लगातार बढ़ रहा विरोध
राजसमंद के भीम थाना क्षेत्र की बरार पंचायत के रातिया थाक बस्ती में कानूनी कार्रवाई के लिए गए हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले को लेकर विरोध लगातार बढ़ता ही जा रहा है। बीती रात घटना के बाद से ही एसपी भुवन भूषण और एएसपी राजेश गुप्ता सहित जिलेभर के सभी आला अधिकारी मौके पर तैनात है। रविवार को आईजी भी भीम पहुंचे और हालात का जायजा लिया। पुलिस ने रविवार को इस मामले में सात संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु कर दी है, वहीं शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों की मौजूदगी में शव को थाने पर ले जाकर गार्ड ऑफ आनर के साथ अंतिम विदाई दी गई। भीम से पार्थिव देह को भीलवाड़ा के जहाजपुर के लिए रवाना किया गया। शनिवार शाम की घटना के बाद मुस्लिम समुदाय के लोग रविवार को थाने पर जमा हो गए और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के साथ परिजनों के लिए मुआवजा राशि तथा परिवार के एक वयस्क को सरकारी नौकरी की मांग पर अड़ गए। 

समुदाय के लोगों ने इस निंदनीय घटना को लेकर आरोपियों को सख्त सजा दिलाने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। जानकारी के अनुसार मृतक हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी तीन माह पूर्व ही आमेट थाने से स्थानांतरित होकर भीम आया था। उनके परिवार मे चार पुत्रियां और एक पुत्र है, जो फिलहाल कुंवारिया कस्बे में रह रहे है। उनके पिता पुलिस महकमें में एएसआई पद और बड़े भाई हैड कांस्टेबल पद से रिटायर हुए है। स्थानीय लोगों के भारी विरोध के बाद पुलिस के अधिकारियों ने मृतक अब्दुल गनी को लेकर तमाम कानूनी कार्रवाई और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के साथ हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया है। दोपहर बाद आईजी विनीता ठाकुर ने पत्रकार वार्ता कर पूरी वारदात का खुलासा किया। आईजी ने बताया कि वारदात में सात आरोपियों में से पांच को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि शेष की भूमिका की जांच की जा रही है। वारदात करने वाले आरोपियों के साथ नैना देवी नामक महिला भी मौजूद थी, जो मारपीट करने वाले आरोपियों को उकसा रही थी। इसकी भी जांच की जा रही है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From crime

Trending Now