संजीवनी टुडे

नाबालिग का शादी के लिए अपहरण के आरोपित चार जनों को तीन साल की सजा

संजीवनी टुडे 13-05-2019 20:33:19


भीलवाड़ा। भीलवाड़ा के महिला उत्पीडन प्रकरण न्यायालय की न्यायाधीश हिमांकनी गौड़ ने सोमवार को नाबालिग लड़की को घर से उठा ले जाने के मामले में पिता व दो पुत्रों के साथ ही एक महिला को तीन-तीन साल की कैद और ढाई-ढाई हजार रुपये जुर्माने से दंडित किया है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

विशिष्ट लोक अभियोजक सविता शर्मा ने बताया कि एक महिला ने 15 जुलाई 10 को सदर थाने में रिपोर्ट पेश की कि 6 जुलाई 10 को उसकी नाबालिग बेटी घर में अकेली थी। अगरपुरा निवासी राधेश्याम पुत्र गुलाब प्रजापत उसके घर आया ओर अपने भाई छोटू प्रजापत से शादी कराने के उद्देश्य से परिवादिया की नाबालिग बेटी का अपहरण कर ले गया। परिवार व मोहल्ले में मालूम किया तो पता चला कि अगवा बेटी को आरोपितों ने जबरन बंधक बना रखा है। साथ ही राधेश्याम के मोबाइल से धमकी भी दी गई। 

पुलिस ने नाबालिग के अपहरण का मामला दर्ज कर तफ्तीश शुरू की। पुलिस ने इस मामले में जांच कर नाबालिग को दस्तयाब करने के बाद अगरपुरा निवासी गुलाबचदं प्रजापत, इसके दो बेटों छोटूलाल व राधेश्याम, और आरके कॉलोनी हाल अगरपुरा निवासी लाली पत्नी भागचंद प्रजापत के खिलाफ न्यायालय में चार्जशीट पेश की। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

न्यायालय ने सुनवाई के बाद आज उक्त चारों आरोपितों को सजा और जुर्माने से दंडित किया है।

More From crime

Trending Now
Recommended