संजीवनी टुडे

अवैध शराब की मिनी फैक्ट्री का उद्भेदन

संजीवनी टुडे 28-09-2020 21:10:41

अवैध शराब की मिनी फैक्ट्री का उद्भेदन


गिरीडीह। अवैध शराब के कारोबार में शामिल गिरिडीह के कई धंधेबाज फल-फूल रहे है। इन धंधेबाजों को सफेदफोशों का  संरक्षण मिल रहा है। इसी क्रम में सोमवार को उत्पाद विभाग ने मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के चंदली गांव के एक ठिकाने पर छापेमारी किया। छापेमारी उत्पाद निरीक्षक मो. गुफरान के नेत्तृव में किया गया। छापेमारी में चंदली गांव के ठिकाने से उत्पाद विभाग की टीम ने हिमाचल प्रर्देश के किंग्स गोल्ड कंपनी के बीयर के साथ रॉयल स्टैग कंपनी का शराब, इंपिरियल ब्लू के शराब से भरे करीब 25 पेटी जब्त किया। 

छापेमारी के दौरान रॉयल स्टैग के रैपर, ढक्कन, किंग्स गोल्ड बीयर के बोतल और रेपर समेत ढक्कन जब्त हुए। करीब डेढ़ घंटे की छापेमारी के दौरान उत्पाद विभाग की टीम को जानकारी मिली कि गांव के इस ठिकाने का मालिक पूरन मरांडी है। पूरन मंराडी घर पर ही शराब का अवैध कारोबार चला रहा है। क्योंकि छापेमारी में बरामद रॉयल स्टैग, किंग्स गोल्ड और आईबी समेत अन्य कंपनियों के ब्रांडेड शराब और बीयर हिमाचल प्रर्देश के लगे रैपर के है। 

लेकिन चंदली गांव में तैयार कर गिरिडीह के रास्ते बिहार भेजे जा रहे है। टीम के पदाधिकारी के अनुसार छापेमारी के दौरान आरोपी पूरन मंराडी भागने में सफल रहा। लेकिन चुनाव को लेकर हाल के दिनों में पूरन मंराडी व उसके बिजनेस पार्टनर को बड़े पैमाने पर बिहार के गया, जमुई समेत कई जिलों से ऑर्डर मिला था। इन डिमांड को पूरा करने के लिए पूरन मंराडी अपने घर में अवैध तरीके से हिमाचल प्रदेश के लगे रैपर के स्टॉक को तैयार कर बिहार भेजने की तैयारी में जुटा था। इससे पहले गुप्त सूचना पर उत्पाद विभाग की टीम ने छापेमारी कर सारा स्टॉक जब्त कर लिया।

यह खबर भी पढ़े: मुख्यमंत्री ने किया कोरोना योद्धाओं का सम्मान, कहा-मास्क ही कोरोना से बचाव का वैक्सीन

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From crime

Trending Now
Recommended