संजीवनी टुडे

खतरनाक साइबर चोरी! आपको पता भी नहीं चलेगा और खाली हो जायेगा आपका अकाउंट... जरूर जान लें

संजीवनी टुडे 30-05-2019 10:12:05


नई दिल्ली। राजधानी के तुगलक रोड इलाके में पुलिस ने बुल्गारिया मूल के दो नागरिकों को खान मार्केट से एटीएम मशीन में स्कीमिंग डिवाइस लगाते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। आरोपित भारत में आकर इस तरह से सैकड़ों कार्ड क्लोन कर ठगी करने के बाद फरार हो जाते थे। 

पुलिस के अनुसार आरोपितों की पहचान तस्वेटेलिन एंजेलोव (37) और रसलेन (42) के रूप में हुई। ये बुल्गारिया की राजधानी सोफिया के रहने वाले हैं। इससे पहले दोनों तीन बार भारत आ चुके हैं। 

रंगेहाथ दबोचे गए दोनों
पुलिस के अनुसार एंजेलोव को स्कीमिंग डिवाइस के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है। उसने खान मार्केट स्थित एक प्राइवेट बैंक के एटीएम बूथ में स्कीमिंग डिवाइस लगा दी थी। इस बीच एटीएम बूथ में लगी मशीन खराब हो गई थी। एटीएम बूथ को ठीक करने के लिए इंजीनियरों को बुलाया गया। एटीएम ठीक कर रहे इंजीनियरों ने एटीएम की बोर्ड पर स्कीमिंग डिवाइस लगी देखी। एटीएम की बोर्ड के ऊपर कैमरा लगा हुआ था। इसके बाद तुगलक रोड थाना पुलिस को सूचना दी गई। 

सूचना मिलते ही पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपितों के आने का इंतजार किया। इस बीच आरोपित एंजेलोवा जैसे ही स्कीमिंग डिवाइस को लेने आया, गार्ड ने एटीएम बूथ का शटर बंद कर दिया। पुलिस टीम ने आरोपित एंजेलोवा को गिरफ्तार कर लिया। इससे पूछताछ के बाद पटपड़गंज स्थित पार्क इन होटल से इसके साथी रसलेन को गिरफ्तार कर लिया गया। 

क्या हुई बरामदगी
पुलिस के अनुसार दोनों के पास से 60 खाली एटीएम कार्ड और करीब 260 क्लोन किए गए कार्ड बरामद किए गए हैं। आरोपितों के पास से 24 हजार यूरो भी बरामद हुए हैं। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वे दो सप्ताह पहले ही भारत आए थे।  

ऐसे करते थे फर्जीवाड़ा 
पुलिस के अनुसार एटीएम बूथ में जहां कार्ड को स्वैप करते हैं, वहां पर स्कीमिंग डिवाइस लगा देते थे। इससे पीड़ित के एटीएम कार्ड के डाटा को कॉपी कर लेते थे। साथ में ये एटीएम के की-बोर्ड के ऊपर पिन होल कैमरा लगाते थे। कैमरा ऐसी जगह लगाते थे, जहां से पिन कोड कैमरे में आसानी से स्पष्ट रूप से कैद हो जाता था। इसके बाद स्कीमिंग डिवाइस की मदद से डाटा को खाली एटीएम कार्ड में कॉपी कर लेते थे। मैगनेटिक स्ट्रिप के जरिए डाटा को खाली कार्ड पर चिपकाते थे और क्लोन किए गए कार्ड से रकम निकाल लेते थे। 

ठगी की रकम से गोवा, बाली और थाइलैंड जाना था
पुलिस पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ है कि आरोपी ठगी की इस रकम से गोवा, बाली और थाइलैंड में जाकर पार्टी करना चाहते थे। पुलिस के हत्थे चढ़े ठग ऐसे देशों में ठगी करने जाते थे, जहां पहुंचने के बाद टूरिस्ट वीजा मिल जाता हो और वहां एटीएम की सुरक्षा काफी कम हो।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

पुलिस के अनुसार ये तुर्की, जर्मनी, इंडोनेशिया और बुल्गारिया में ठगों के साथ मिलकर वहां सैकड़ों कार्ड की क्लोनिंग कर चुके हैं।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188

More From crime

Trending Now
Recommended