संजीवनी टुडे

आई-20 कार से आकर अपराधी लूटते हैं एटीएम, दो गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 25-09-2020 09:26:55

आई-20 कार से आकर अपराधी लूटते हैं एटीएम, दो गिरफ्तार


पटना। राजधानी पटना में एटीएम  काटकर रुपये  की चोरी या लूट करने वाले गिरोह के दो सदस्यों को पटना पुलिस ने बुधवार की रात  गिरफ्तार कर लिया । दोनों आई-20 कार से एटीएम लूटने आए थे। लेकिन, गार्ड की सूझ-बूझ से दोनों गिरफ्तार कर लिए गए।  पूछताछ में दोनों अपराधियों ने स्वीकार किया कि  दोनों ने मिलकर पटना के एक दर्जन से ज्यादा एटीएम को लूटा है। पुलिस दोनों से पूछताछ कर इनके गिरोह में शामिल अन्य लोगों के संबंध में जानकारी एकत्रत कर रही है। 

दरअसल, यह घटना गांधी मैदान थाना क्षेत्र के एग्जीबिशन रोड की है। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम लूटने   निकेश उर्फ मनीष  और नारायण कुमार उर्फ रॉकी वहां पर पहुंचे थे। दोनों आई-20 कार से एटीएम लूटने आए थे। आसपास में सन्नाटा देखकर दोनों युवक अपनी गाड़ी से उतरे और दोनों एटीएम मशीन के पास पहुंचे। दोनों ने सिर पर कैप पहन रखा था और मशीन के सामने आते ही दोनों ने अपने चेहरे को गमछे से ढक लिया। इसके बाद मशीन काटने का औजार निकाला और फिर अपने काम को अंजाम देने में जुट गए। 

इस दौरान एटीएम का सिक्योरिटी गार्ड सूरज वहां नहीं था। वह वॉशरूम गया था। चंद मिनटों में गार्ड सूरज वापस एटीएम के बाहर आ गया था। उसने अपराधियों की हर हरकत को अपनी आंखों से देख लिया। इसके बाद उसने सूझबूझ के साथ काम लिया। एहतियात बरतते हुए सूरज ने सबसे पहले एटीएम के शटर को बाहर से गिरा दिया और उसे लॉक कर दिया। इसके बाद उसने जोर-जोर से चोर-चोर चिल्लाना शुरू कर दिया। शोर सुन एटीएम के अंदर मौजूद अपराधी भी घबरा गए। वे  भागना चाहते थे, लेकिन भागने के लिए कोई रास्ता उनके पास नहीं था।

पहले भी कर चुके हैं ऐसी वारदात
 जानकारी मिलने के बाद गांधी मैदान थाना के सब इंस्पेक्टर साजिद हुसैन खान मौके पर पहुंचे। दोनों अपराधियों को अपनी गिरफ्त में लिया। पुलिस के अनुसार एक अपराधी का नाम निकेश कुमार उर्फ मनीष कुमार और दूसरे का नाम नारायण कुमार उर्फ रॉकी है। ये दोनों नवादा जिले के हिसुआ के रहने वाले  हैं । गांधी मैदान थाना में दोनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस की जांच और पूछताछ में पता चला है कि दोनों ने मिलकर पटना के कई एटीएम को लूटा है।  बैंक के चीफ ब्रांच मैनेजर भानू प्रताप सिंह के अनुसार घटना के समय एटीएम में 9 लाख रुपया  रखा था जो सिक्योरिटी गार्ड सूरज की तत्परता की वजह से अपराधियों के हाथ नहीं लगा।

यह खबर भी पढ़े: ‘रेल रोको’ आंदोलन: फिरोजपुर डिवीजन ने 26 सितम्बर तक विशेष ट्रेनों का परिचालन किया रद्द

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From crime

Trending Now
Recommended