संजीवनी टुडे

जड़िया हत्याकाण्ड में मुख्य शूटर दिनेश उर्फ फौजी बापर्दा गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 16-09-2019 21:25:43

प्रकरण में जिला पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने बताया कि सुरेन्द्र उर्फ ढिल्लू पुत्र हवासिंह की तीन युवकों दनादन गोलिया चलाकर सिर, पेट व शरीर के अन्य हिस्सों में गोलिया मारकर हत्या करदी थी।


सादुलपुर। कस्बा राजगढ के बहूचर्चित प्रकरण विश्व हिन्दू परिषद के प्रखण्ड संयोजक एवं युवा ट्रांसपोर्ट व्यवसायी सुरेन्द्र जडिया उर्फ ढिल्लू पुत्र हवासिंह जडिया की हत्या मामले में घटना के चार माह बाद जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार जिला विशेष टीम शाखा के प्रभारी उप निरीक्षक अमित स्वामी के नेतृत्व में गठित टीम ने 1500 रूपये के एक ईनामी हत्या के आरोपी को दबिस देकर अलवर में किराये के मकान में रहकर फरारी काट रहे आरोपी दिनेश डागर उर्फ फौजी पुत्र मांगेराम जाति जाट निवासी हरपालू ताल पुलिस थाना राजगढ को बापर्दा गिरफ्तार करने में बड्ी सफलता हासिल की है।

यह खबर भी पढ़ें: गुरु नानक देव श्रद्धालुओं के लिए खुशखबरी, पाक इस दिन से खोलेगा करतारपुर गलियारा

प्रकरण में जिला पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने बताया कि सुरेन्द्र उर्फ ढिल्लू पुत्र हवासिंह की तीन युवकों दनादन गोलिया चलाकर सिर, पेट व शरीर के अन्य हिस्सों में गोलिया मारकर हत्या करदी थी। जिसमें अब तक के अनुसंधान से मुल्जिमान संजय पूनियां, अंकित पूनियां, संदीप उर्फ काला, बिल्कूपाल, दलवीर उर्फ गोलिया, धर्मवीर सिंह व सम्पत नेहरा को गिरफ्तार किया जा चूका है। मामले में मौके पर फायरिंग करने वाले सम्पत नेहरा के शूटर दिनेश डागर उर्फ फौजी पुत्र मांगेराम जाति जाट निवासी हरपालू ताल पुलिस थाना हमीरवास जिला चूरू की गिरफ्तारी शेष थी। जिसके सम्बन्ध में मन् तेजस्वनी गौतम (आईपीएस) जिला पुलिस अधीक्षक चूरू के निर्देशानुसार अमित कुमार उपनिरीक्षक प्रभारी जिला विशेष शाखा के नेतृत्व में हैड कास्टेबल मोहरसिंह, कासटेबल मनोज कुमार, कास्टेबल लोकेश कुमार, की विशेष टीम का गठन किया जाकर निकटतम सुपरविजन रखते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिये व तलाश मुल्जिम टीम को रवाना किया गया।

टीम को सूचना मिली कि मुल्जिम दिनेश डागर उर्फ फौजी अलवर शहर में किराये के मकान मंे रहकर फरारी काट रहा है। जिस पर आज दिनांक को विशेष टीम द्वारा अलवर से दिनेश डागर उर्फ फौजी पुत्र मांगेराम जाति जाट निवासी हरपालू ताल पुलिस थाना हमीरवास को बापर्दा डिटेन कर हमराह लाये व मुल्जिम पर जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय द्वारा 1500 रूपये का नगद ईनाम घोषित किया हुआ है। थानाधिकारी विजय सिंह मीणा ने बताया कि मुल्जिम से पुछताछ जारी है तथा मुल्जिम की गिरफ्तारी में साईबर सैल की अहम भूमिका रही।  

ये था प्रकरण-
वहीं प्रकारण मेें 09 मई 2019 को मृतक सुरेन्द्र उर्फ ढिल्लू के पिता हवासिंह ने राजगढ थाने में मामला दर्ज करवाया था कि 09 मई 2019 की शाम सात बजे लगभग मेरा लडका सुरेन्द्र उर्फ डिल्लू, नवीन पूनियां, भालसिंह व राहुल जडिया हमारी ट्रांसपोर्ट कम्पनी के आगे बेठे थे तभी तीन लडके हाथों में पिस्तौल लिए हुए अचानक आये तथा एक राय होकर तीनों ने मेरे बेटे पर दनादन गोलियां चलानी शुरू कर दी तथा अंधाधुध हुई फांयरिंग के कारण सुरेन्द्र जडिया के सिर, पेट, हाथ, शरीर के अन्य हिस्सों में गोलिया मारकर हत्या कर दी। वहीं गोलिया मारकर तीनों युवक मोटरसाईकिल पर सवार होकर चंगोईवाला स्कूल की तरफ भाग गये। मैँ घटना के वक्त लुणकरनसर में अपनी जमीन संभालने के लिये गया हुआ था।

मुझे उक्त घटना के बारे में नवीन पूनिया ने दुरभाष पर बताया। दर्ज मामले में बताया कि मेरे पुत्र सुरेन्द्र जडिया के साथ सतवीर, सुरेन्द्र, मुख्यात्यार पूनिया पुत्रगण जगराम पूनियां तथा संजय पुत्र सतबीर पूनिया, अंकित पूनिया पुत्र सुरेश निवासीगण राघा छोटी के साथ पूर्व से रंजिश चल रही थी तथा उनके द्वारा मेरे बेटे को पूर्व में जान से मारने तथा बदला लेने की बात भाल सिंह को कही थी। जिनके द्वारा षडयंत्र रचकर इस घटना को स्वयं एवं आपराधिक व्यक्तियों को सुपारी देकर मेरे बेटे की हत्या की गई है। नवीन उक्त हत्यारों को देखकर पहचान सकता है तथा प्रकरण की जांच विशेषज्ञ एजेंसी से करवाई।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From crime

Trending Now
Recommended