संजीवनी टुडे

भाजपा महिला कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

संजीवनी टुडे 14-06-2019 20:02:17

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिला अंतर्गत उसी बसीरहाट संसदीय क्षेत्र में भाजपा की एक और महिला कार्यकर्ता गोलियों से छलनी कर दी गई जहां पिछले सप्ताह पांच भाजपा कार्यकर्ताओं को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया था।


कोलकाता। पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिला अंतर्गत उसी बसीरहाट संसदीय क्षेत्र में भाजपा की एक और महिला कार्यकर्ता गोलियों से छलनी कर दी गई जहां पिछले सप्ताह पांच भाजपा कार्यकर्ताओं को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया था। घटना गुरुवार रात की है, जिसका खुलासा शुक्रवार को हुआ है।मृतक की पहचान सरस्वती दास (42) के तौर पर हुई है। उसे नौ गोलियां मारी गई हैं। यह घटना तब हुई जब एक दिन पहले ही राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस समेत भाजपा, कांग्रेस और माकपा के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर राज्य में शांति बहाली के लिए प्रयास करने की अपील की थी। हासनाबाद के तकीपुर गांव में रहने वाली सरस्वती दास को गुरुवार देर रात गोली मारकर हत्या की गई है। क्षेत्र के आमलानी ग्राम पंचायत में सरस्वती भाजपा की सक्रिय कार्यकर्ता थीं। उनके पति ने शुक्रवार को बताया कि जब वह बाजार से घर लौटे तो उनकी पत्नी कमरे में रक्तरंजित हालत में पड़ी हुई थीं। आसपास गोलियां बिखरी थीं। उन्हें तुरंत तकीपुर ग्रामीण अस्पताल में ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। उन्होंन हत्या का आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगाया है। लंबे समय से सरस्वती को तृणमूल कांग्रेस के लोग धमकी दे रहे थे। गुरुवार देर रात उन्हें घर में अकेला पाकर गोली मारी गई है। 

इस घटना को लेकर भाजपा ने एक बार फिर तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोलना शुरू कर दिया है। प्रदेश उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजूमदार ने शुक्रवार को प्रदेश भाजपा मुख्यालय में मीडिया से बात करते हुए कहा कि ममता के इशारे पर राज्यभर में खूनी खेल हो रहा है। एक तरफ डॉक्टरों को निर्मम तरीके से उनके दुलारे समुदाय के लोग पीट रहे हैं तो दूसरी ओर भाजपा कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारा जा रहा है। भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद लॉकेट चटर्जी ने इसके खिलाफ कैंडल मार्च निकालने की घोषणा की है। बसीरहाट से संसदीय चुनाव लड़ चुके भाजपा उम्मीदवार सायंतन बसु ने सरस्वती के परिजनों से मुलाकात की है। उन्होंने पार्टी की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। इसके साथ ही इसकी रिपोर्ट केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह को सौंपने की बात कही है। घटना के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन एक दिन बाद भी अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस ने कहा कि सरस्वती का शव उनके घर में रक्तरंजित हालत में मिला। उनकी गोली मारकर हत्या की गई है। हम छानबीन कर रहे हैं कि महिला की कोई राजनीतिक या आपसी रंजिश थी या नहीं। इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है, लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166 

More From crime

Trending Now
Recommended