संजीवनी टुडे

रायगढ़ : कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उड़ाया काला पतंग, कृषि कानून के विरोध का संदेश देने अपनाया तरीका

संजीवनी टुडे 14-01-2021 18:53:30

मकर संक्रांति पर रायगढ़ में कांग्रेस ने कृषि कानून के विरोध में पतंगबाजी की। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केन्द्र सरकार के कृषि कानून का विरोध करते हुए काला पतंग उड़ाकर प्रदर्शन किया।


रायगढ़। मकर संक्रांति पर रायगढ़ में कांग्रेस ने कृषि कानून के विरोध में पतंगबाजी की। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केन्द्र सरकार के कृषि कानून का विरोध करते हुए काला पतंग उड़ाकर प्रदर्शन किया। मकर संक्रांति पर केन्द्र के कृषि कानून का विरोध करने का कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नायाब तरीका अपनाया। प्रदेश कांग्रेस सचिव अनिल अग्रवाल के नेतृत्व में रायगढ़ के नटवर स्कूल मैदान में मकर संक्रांति के अवसर पर कांग्रेस कार्यकर्ता काले पतंग लेकर पहुंचे। पतंगों पर कृषि कानून का विरोध करने के नारे लिखे गए थे, इन पतंगों के माध्यम से केन्द्र सरकार को संदेश देने का प्रयास किया गया। प्रदेश कांग्रेस सचिव अनिल अग्रवाल ने कृषि कानून के विरोध में पतंगबाजी करते हुए मोदी सरकार पर निशाना साधा। 

उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ऐसा कानून थोप रही है, जिसे किसान स्वीकार नहीं करना चाहते। देश की 80 प्रतिशत आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है, जिसमें से 70 प्रतिशत किसान है। किसान कृषि कानून का विरोध कर रहें हैं, लेकिन केन्द्र सरकार उनकी आवाज को नहीं सुन रही। आज मकर संक्रांति के अवसर पर कांग्रेस किसानों के हित में कृषि कानून वापस लेने का संदेश दे रही। जब समूचे देश में कृषि कानून का विरोध हो रहा है, उस स्थिति में मोदी सरकार इस कानून को वापस ले। कृषि कानून के विरोध स्वरूप पतंगबाजी कार्यक्रम में पूर्व महापौर जेठूराम मनहर, संतोष राय, नगेन्द्र नेगी, पार्षद संजय देवांगन, सतपाल बग्गा, नारायण घोरे, मनोज सागर एवं योगेंद्र यादव सहित अन्य कार्यकर्ता शामिल हुए। इस दौरान पतंगबाजी के साथ कृषि कानून के विरोध में नारेबाजी की गई। 

यह खबर भी पढ़े: भारत के अंदरूनी मामले कश्मीर पर तीन देश के विदेश मंत्रियों ने उठाए सवाल, पाकिस्तानी अखबारों की खबरें

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From chhattisgarh

Trending Now
Recommended