संजीवनी टुडे

पंजाबी बाहुल्य जिलों में 400 अध्यापकों के रिक्त पदों को शीघ्र भरा जायेगा- मुख्यमंत्री

संजीवनी टुडे 05-08-2019 15:48:35

पंजाबी बाहुल्य जिलों में पंजाबी अध्यापकों की कमी के चलते पंजाबी अध्यापकों के चार सौ रिक्त पद शीघ्र भरे जायेंगे।


चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि पंजाबी बाहुल्य जिलों में पंजाबी अध्यापकों की कमी के चलते पंजाबी अध्यापकों के चार सौ रिक्त पद शीघ्र भरे जायेंगे। खट्टर यहां गुरू नानक देव के 550 वें प्रकाश पर्व आयोजित समागम को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कुरुक्षेत्र में सिख गुरुओं के नाम से एक संग्रहालय बनवाने की घोषणा की। संग्रहालय में सिख गुरुओं के बलिदान व इतिहासकारों द्वारा लिखे गए लेखों की जानकारी उपलब्ध होगी ताकि युवा पीढ़ी को महापुरुषों से प्रेरणा मिल सके।

एम्स में फैकल्टी पदों पर निकली बम्पर भर्ती, साक्षात्कार के आधार पर होगा चयन

मुख्यमंत्री ने कहा कि संस्कारों के बिना सभी प्रकार की शिक्षाएं व्यर्थ हैं और जब तक हम महापुरुषों के बताए हुए उपदेशों व शिक्षाओं पर नहीं चलते तब तक शिक्षा व्यर्थ है। इन्हीं महापुरूषों का संदेश देने के लिए प्रदेश सरकार ने पिछले पांच वर्षों में महापुरुषों की जयंतियां सरकारी तौर पर मनाने का निर्णय लिया है। सिरसा धर्मगुरूओं की एक ऐतिहासिक नगरी रही है जहां सिखों के सभी दस गुरुओं ने यहां पर चालिसा अर्थात 40 दिन यहां बिताए। गुरु नानक देव जी महाराज ने यहां के गुरुद्वारा चिल्ला साहिब में चार महीने 13 दिन बिताए थे।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरु नानक देव ने अपनी शिक्षाओं के माध्यम से समाज को एकता में जोडऩे व भाईचारा बनाए रखने का उस समय संदेश दिया था जब देश में गुलामी का दौर था और विदेशी आक्रांता भारतीय समाज को कमजोर करने में लगे हुए थे। बाद में इसी प्रथा को आगे बढ़ाते हुए गुरु गोबिंद सिंह ने उत्तर भारत के राज्यों में मुगलों से लड़ाई के लिए बीर बंदा बहादुर को सेनापति बनाकर सेना का गठन किया था और यमुना नगर के निकट लोहगढ़ को अपनी राजधानी बनाया और मुगलों से डटकर लड़े।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From career

Trending Now
Recommended