संजीवनी टुडे

निजी विश्वविद्यालय अपने हाॅस्टलों में बढ़ा सकेंगे पांच फीसदी फीस, लेकिन छात्रों से...

संजीवनी टुडे 15-06-2019 13:14:49

सरकार ने प्रदेश में संचालित निजी विश्वविद्यालयों को अपने हाॅस्टलों में पांच प्रतिशत शुल्क बढ़ोतरी करने की अनुमति दे दी है। इस फैसले से हाॅस्टलों में रहने वाले विद्यार्थियों की जेब का बोझ बढ़ेगा।


नई दिल्ली। हिमाचल सरकार ने प्रदेश में संचालित निजी विश्वविद्यालयों को अपने हाॅस्टलों में पांच प्रतिशत शुल्क बढ़ोतरी करने की अनुमति दे दी है। इस फैसले से हाॅस्टलों में रहने वाले विद्यार्थियों की जेब का बोझ बढ़ेगा। हालांकि सरकार ने विद्यार्थियों को बड़ी राहत देते हुए विभिन्न फंडों की एवज में पैसे वसूलने पर रोक लगा दी है।

राज्य के उच्च शिक्षा विभाग ने निजी विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक सत्र 2019-20 के फीस ढांचे को लेकर जारी अधिसूचना में कहा गया है कि फीस का भुगतान दो किश्तों में किया जाएगा। हर कोर्स में 10 प्रतिशत सीटें गरीबी रेखा से नीचे यानी बीपीएल एवं एकीकृत ग्रामीण विकास के लिए आरक्षित होंगी तथा ऐसे छात्रों से टयूशन फीसी नहीं ली जाएगी।

अधिसूचना के मुताबिक निजी विश्वविद्यालय अब पहले की तरह बिल्डिंग फंड, इंफ्रास्ट्रक्चर फंड, डेवलेपमेंट फंड विद्यार्थियों से नहीं वसूलेंगे। दरअसल यह सामने आ चुका है कि राज्य में कुछ निजी विवि इंफ्रास्ट्रक्चर और फैकल्टी के नाम पर विद्यार्थियों को गुमराह कर इस तरह की वसूली करते हैं।

निजी विश्वविद्यालयों को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि यूजीसी, एआईसीयूटी, एमसीआई, एनसीटीई और अन्य नियामक निकायों द्वारा मंजूर कोर्स ही चलाएं और रिफंड होने वाली सिक्यूरिटी राशि को कोर्स के आखिरी साल की फीस में एडजस्ट किया जाए।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

अधिसूचना के अनुसार निजी विवि उच्च शिक्षा संस्थानों के अनिवार्य मूल्यांकन और मान्यता का अनुपालन करेंगे और अधिनियम में उल्लिखित मानदंडों के अनुसार लेखा और बैलेंस शीट तैयार करेंगे तथा शिक्षा नियामक को प्रस्तुत करेंगे। उल्लेखनीय है कि राज्य में 17 निजी विश्वविद्यालयों में 1200 के करीब विद्यार्थी अध्ययनरत हैं।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From career

Trending Now
Recommended