संजीवनी टुडे

अब इन कक्षाओं में भी देनी होगी बोर्ड परीक्षाएं, इस सत्र से लागू होगा नया नियम

संजीवनी टुडे 13-06-2019 13:58:46

सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले पांचवीं और आठवीं के विद्यार्थियों को अब बोर्ड परीक्षा से गुजरना होगा।


शिक्षा डेस्क। राज्य शासन ने पांचवीं और आठवीं के परीक्षा पैटर्न में एक बार फिर बदलाव किया है। प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले पांचवीं और आठवीं के विद्यार्थियों को अब बोर्ड परीक्षा से गुजरना होगा। बोर्ड परीक्षा राज्य शिक्षा केंद्र की ओर से संचालित होगी।

इसके लिए राज्य शिक्षा केंद्र ने 2020 में होने वाली परीक्षा के लिए कार्ययोजना बनाना शुरू कर दिया है। साथ ही परीक्षा में बैठने वाले सभी विद्यार्थी राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा निश्चित किए गए अंक या ग्रेड प्राप्त करने पर ही उत्तीर्ण माना जाएगा। मप्र सरकार ने इसके लिए दो मार्च,2019 को गजट नोटिफिकेशन जारी कर दिया था। विभाग ने इसके क्रियान्वयन की तैयारी शुरू कर दी है। इस सत्र से ही पांचवीं एवं आठवीं में बोर्ड परीक्षा होगी। 

2009 में आखिरी बार बोर्ड परीक्षा ली गई थी
वर्ष 2009 तक पांचवीं और आठवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा होती थी, जिसके तहत विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा को पास नहीं करता था तो उसे अगली कक्षा में नहीं जाने दिया जाता था। उसी साल नो डिटेंशन पॉलिसी लागू होने से दसवीं तक बोर्ड खत्म हो गया था। इस पॉलिसी के तहत आठवीं तक सभी बच्चों को परीक्षा पास किए बिना अगली कक्षा में दाखिला दे दिया जाता था। 

इसके अनुसार आठवीं तक किसी भी विद्यार्थी को फेल नहीं करना था। इसी प्रकार सीबीएसई स्कूलों में दसवीं कक्षा में ग्रेडिंग लागू हो गया। इसके बाद विद्यार्थियों का मूल्यांकन करना मुश्किल हो गया था। अब एक बार फिर पांचवीं-आठवीं के छात्रों को अगली कक्षा में जाने के लिए बोर्ड परीक्षा देनी होगी। अनुत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थियों को एक मौक और दिया जाएगा। जबकि परीक्षा परिणाम घोषित होने की तारीख से दो माह की अवधि में उसे पुन: परीक्षा देने का एक अवसर प्रदान किया जाएगा।

अतिरिक्त कक्षाएंं लगाई जाएगी
विभाग की ओर से सरकारी स्कूल के पांचवीं और आठवीं की बोर्ड परीक्षा देने वाले कमजोर विद्यार्थियों के लिए अतिरिक्त कक्षाएं भी लगाई जाएंगी। विभाग का मानना है कि इससे दसवीं बोर्ड के रिजल्ट और आठवीं तक के बच्चों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार आएगा।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

इस बाबत राज्य शिक्षा केन्द्र की संचालिका आईरिन सिंथिया ने बताया कि पांचवीं और आठवीं बोर्ड इसी सत्र से शुरू हो जाएगा। 2020 में होने वाली परीक्षाओं को लेकर कार्ययोजना बनाई जा रही है। जल्द ही क्रियान्वयन के संबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिए जाएंगे।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From career

Trending Now
Recommended