संजीवनी टुडे

रात आठ से सुबह आठ बजे तक बिना ओटीपी के एटीएम से नहीं निकाल पाएंगे रुपये

संजीवनी टुडे 22-02-2020 20:28:29

बैंक में रखे रुपये की सुरक्षा को लेकर फिक्रमंद रहने वाले स्टेट बैंक के खाताधरकों के लिए एक अच्छी खबर है। बैंक प्रबंधन ने उनकी कमाई की सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने एक नया सिस्टम लागू किया है।


टीकमगढ़। बैंक में रखे रुपये की सुरक्षा को लेकर फिक्रमंद रहने वाले स्टेट बैंक के खाताधरकों के लिए एक अच्छी खबर है। बैंक प्रबंधन ने उनकी कमाई की सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने एक नया सिस्टम लागू किया है। इस व्यवस्था के तहत अगर आपको रात के वक्त एटीएम का इस्तेमाल कर बड़ी रकम निकालनी हो, तो मोबाइल लेकर जाना होगा।

एसबीआई अधिकारियों के अनुसार 10 हजार से अधिक रुपये निकालने की प्रक्रिया में ओटीपी जनरेट करना होगा। जिसे फीड करने के बाद ही मांगी गई। रकम एटीएम से निकल सकेगी। यह व्यवस्था केवल एसबीआई के खाता धारकों के लिए ही लागू की गई है। जिसमें जनरेट होने वाले ओटीपी को अन्य बैंकों के एटीएम में इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। यानी यह सिस्टम केवल एसबीआई के एटीएम में ही प्रयोग हो सकेंगे।

पंजीकृत मोबाइल नंबरों से पहले सत्यता की जांच होगी

सहायक जनसम्पर्क अधिकारी शैफाली तिवारी ने शनिवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि रात को आठ बजे से सुबह आठ बजे के बीच इस व्यवस्था के तहत एटीएम से रकम निकासी को जाने वाले इन खाताधारकों के बैंक में पंजीकृत अधिकृत मोबाइल नंबरों के माध्यम से सत्यता की जांच की जाएगी। इस जांच प्रक्रिया के लिए ओटीपी जनरेट कर मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा, तभी रकम आहरित होगी। बिना ओटीपी के रात के वक्त कोई भी खाताधारक दस हजार के अधिक रकम नहीं निकाल सकेंगे। इस तरह खाताधारकों की रकम उड़ाने की फिराक में रहने वाले जालसाजों पर लगाम लगेगी।

यह व्यवस्था सिर्फ एसबीआई के ग्राहकों के लिए ही लागू

उन्होंने बताया कि यह व्यवस्था एसबीआई के ग्राहकों के लिए लागू की गई है। एटीएक क्लोनिंग को रोकने के लिए व रकम की सुरक्षा को लेकर इसे लागू किया गया है। रात आठ से सुबह आठ बजे के बीच ओटीपी नहीं निकाली जा सकेंगी। इसके लिए ग्राहक को मोबाइल साथ लेकर जाना होगा। इससे उपभोक्ता की राशि सुरक्षित रहेगी।

हेराफेरी-क्लोन के फ्रॉड रोकने के लिए की तैयारी

बैंक अधिकारियों का कहना है कि भारतीय स्टेट बैंक की ओर से ओटीपी आधारित यह नई व्यवस्था उन मामलों को रोकने के लिए है। जिनमें डेबिट कार्ड में हेराफेरी या क्लोन के जरिए एटीएम फ्रॉड कर लोगों की गाढ़ी कमाई उड़ाने की कोशिश की जाती है। एटीएम फ्रॉड की इन घटनाओं से सबक लेते हुए स्टेट बैंक ने अपने ग्राहकों की रकम की सुरक्षा करने यह नया इंतजाम किया है। इस व्यवस्था के तहत अगर आपको रात आठ बजे के बाद एटीएम से दस हजार रुपये की राशि निकालनी हो, तो अपना मोबाइल फोन साथ रखना होगा। अगर दस हजार रुपये से अधिक रकम आहरण करना हो, तो बैंक में अधिकृत किए गए खाताधारक के अधिकृत मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जाएगा।

दूसरे बैंक के लिए यह नियम लागू नहीं

इस व्यवस्था के तहत अगर खाताधारक अपने एसबीआई डेबिट कार्ड का इस्तेमाल किसी दूसरे बैंक के एटीएम पर करते हैं तो वहां ओटीपी की जरूरत नहीं होगी। इसी तरह दूसरे बैंक के खाताधारक भी एसबीआई के एटीएम मशीन पर अपना डेबिट कार्ड इस्तेमाल करता है, तो भी ओटीपी जनरेट करने की जरूरत नहीं है।

यह खबर भी पढ़े: पीएम मोदी बोले- खिलाड़ी केवल खेल पर ध्यान दें, बाकी चिंता देश पर छोड़ दें

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From business

Trending Now
Recommended