संजीवनी टुडे

बधिर एवं दृष्टिहीनों के लिए सैमसंग के दो नये ऐप

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 10-09-2019 17:45:38

इलेक्ट्रानिक्स एवं स्मार्टफोन बनाने वाली प्रमुख कंपनी सैंमसंग ने बधिर और दृष्टिहीन जैसे दिव्यांगों की मदद के उद्देश्य से दो नये ऐप लाँच किये हैं


नई दिल्ली। इलेक्ट्रानिक्स एवं स्मार्टफोन बनाने वाली प्रमुख कंपनी सैंमसंग ने बधिर और दृष्टिहीन जैसे दिव्यांगों की मदद के उद्देश्य से दो नये ऐप लाँच किये हैं जिसमें से सैमसंग गुड वाइब्स बधिर व्यक्तियों को अपने परिजनाें और दोस्तों से वार्तालाप करने में सक्षम बनाता है जबकि रेलूमिनो ऐप दृष्टिहीन लोगों के लिए एक सहायक एप्लीकेशन है।

यह खबर भी पढ़े: विश्वकप जैसा प्रदर्शन रहा तो ओलंपिक में नतीजे अच्छे होंगे : मनु

कंपनी ने मंगलवार को यहां जारी बयान में कहा कि गुड वाइब्स को भारत में विकसित किया गया है जो बधिरों को अपने देखभाल करने वालों और प्रियजनों के साथ स्मार्टफोन का उपयोग करते हुए टू वे संचार में सक्षम बनाता है। यह एेप वाइब्रेशन को टेक्स्ट में और टेक्स्ट को वाइब्रेशन में बदलने के लिए मोर्स कोड का उपयोग करता है। एेप में दो विभिन्न यूजर इंटरफेस (यूआई) हैं। 

पहले इंटरफेस में बधिरों के लिए एक इनविजीबल यूआई है, जो वाइब्रेशन, टैप्स और इशारों का उपयोग करता है, जबकि दूसरे इंटरफेस में एक विजीबल यूआई है जो देखभाल करने वालों के लिए एक स्टैंबडर्ड चैट इंटरफेस है। बधिर इंटरफेस के साथ अपने संदेश को भेजने के लिए डॉट्स और डैशेज के संयोजन का उपयोग करते हैं।

उसने कहा कि रेलूमिनो को कंपनी के वैश्विक सी-लैब कार्यक्रम के तहत अपने कर्मचारियों ने विकसित किया है। यह दृष्टिहीनों एक दृष्टि सहायक एपलीकेशन है। यह तस्वीरों को बड़ा और छोटा कर, तस्वीर की आउटलाइन को हाईलाइट कर, कलर कन्ट्रास्ट और ब्राइटनेस को एडजस्ट कर तथा कलर को रिवर्सिंग करने के जरिये उन्हें तस्वीरों को साफ तरीके से देखने में सक्षम बनाता है। दोनों ऐप सैंमसंग ऐप स्टोर पर उपलब्ध है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From business

Trending Now
Recommended