संजीवनी टुडे

इस बैंक ने शुरू की Video KYC की सुविधा, अब घर बैठे ऑनलाइन खुलेगा खाता, जानिए सबकुछ

संजीवनी टुडे 17-09-2020 16:00:33

कोरोना काल में अपने ग्राहकों को राहत देने हेतु प्राइवेट बैंक एचडीएफसी ने नई सर्विस प्रारम्भ की है। बैंक ने ग्राहकों हेतु फुल वीडियो केवाईसी सुविधा शुरू की है।


 

नई दिल्ली। कोरोना काल में अपने ग्राहकों को राहत देने हेतु प्राइवेट बैंक एचडीएफसी ने नई सर्विस प्रारम्भ की है। बैंक ने ग्राहकों हेतु फुल वीडियो केवाईसी सुविधा शुरू की है। अब ग्राहक घर बैठे सुरक्षित रूप से ऑनलाइन बैंक खाता, कॉरपारेट सैलरी अकाउंट या फिर निजी लोन हेतु आवश्यक KYC (Know Your Customer) करा लेंगे। इन्हें बैंक ब्रांच जाने की आवश्यकता  नहीं होगी तथा मिनटों में काम हो जाएगा। 

आपकी जानकारी हेतु बता दें कि केवाईसी भारतीय रिजर्व बैंक के जरिए संचालित एक पहचान प्रक्रिया है जिसकी सहायता से बैंक और अन्य वित्तीय संस्थाएं अपने ग्राहक के संबंध में काफी अच्छे से जान पाती हैं। HDFC बैंक में ग्रुप हेड अरविंद वोहरा के मुताबिक, पहले चरण में सेविंग, कॉरपोरेट अकाउंट्स एवं पर्सनल लोन हेतु यह सेवा प्रारम्भ हो रही हैं। अन्य दूसरे बैंकिंग प्रोडक्ट्स हेतु भी यह सुविधा विभिन्न चरण में शुरू होगी। 

वीडियो केवाईसी हेतु क्या है आवश्यक?
वीडियो केवाईसी करवाने हेतु आवेदक के पास बेहतर डेटा कनेक्टिविटी वाला  एक स्मार्टफोन होना चाहिए। बैंक आवेदन के समय संपूर्ण आधार ओटीपी-आधारित ईकेवाईसी होना आवश्यक है। 

साथ ही आवेदक के हाथ में पैन कार्ड की मूल प्रति होनी चाहिए। ग्राहक के जरिए बैंक की वेबसाईट/प्लेस्टोर पर इंस्टा अकाउंट ओपनिंग ऐप के जरिए अपना आधार ईकेवाईसी पूरा कर लेने के पश्चात, उसे बैंक के अधिकारी से जोड़ा जाता है, जो वीडियो केवाईसी की प्रक्रिया पूरी करता है।

क्या करेगा बैंक?
बैंक ग्राहक की सूचना की वेरिफाई करता है। उसका तस्वीर खींचता है। ग्राहक के पैनकार्ड की तस्वीर लेता है। खाता एक्टिव किए जाने से पूर्व वीडियो केवाईसी के ऑडियो-वीडियो बातचीत वेरिफाई किया जाता है। 

वीडियो केवाईसी हेतु ग्राहकों को बैंक के जरिए SMS या ईमेल के जरिए एक लिंक भेजा जाएगा। इस लिंक पर क्लिक करने के पश्चात ग्राहक वीडियो केवाईसी वेबपेज पर पहुंच जाएगा। इसके बाद ग्राहक को अपना मोबाइल नंबर डालना होगा एवं फिर इस पर आए ओटीपी के जरिए उसे ऑथेन्टिकेट किया जाएगा। 

इस प्रक्रिया को पूरा करने के पश्चात ग्राहक को वीडियो केवाईसी एजेंट से कनेक्ट कर दिया जाएगा। यह एजेंट ग्राहक से पैन, फोटो, सिग्नेचर, लोकशन इत्यादि डिटेल्स लाइव वीडियो के जरिए प्राप्त करेगा। सभी डिटेल्स वीडियो बैंकिंग रिप्रेजेंटेटिव के जरिए प्रमाणित किए जाने के पश्चात आपका अकाउंट या फिर  क्रेडिट कार्ड बन जाएगा। 

रिजर्व बैंक के दिशानिर्देशों के अनुरूप, वीडियो केवाईसी, ग्राहक की पूर्ण केवाईसी के समान है एवं इसके बाद ग्राहक सभी वित्तीय/केवाईसी प्रोडक्ट ले सकता है। यह सर्विस वर्किंग दिनों में सवेरे 10 बजे से शाम 6 बजे तक उपलब्ध रहेगी। वीडियो केवाईसी की प्रक्रिया ऑनलाइन, फास्ट तथा सुरक्षित है। इसमें बैंक के अधिकारी तथा ग्राहक के मध्य की बातचीत रिकॉर्ड होती है। 

यह खबर भी पढ़े: अब SBI के ग्राहक आसानी से नहीं निकाल सकेंगे एटीएम से पैसा, बैंक ने बदला ये नियम

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From business

Trending Now
Recommended