संजीवनी टुडे

अभी और बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए इसका भारत पर पड़ेगा ये असर

संजीवनी टुडे 26-04-2018 12:12:32


नई दिल्ली। वर्ल्ड बैंक का ये मानना है कि इस ईयर तेल के दामों में कमी नहीं होने वाली है। खबरों के मुताबिक, संस्था का अनुमान है कि इस ईयर ऊर्जा संबंधी वस्तुओं- कच्चा तेल, गैस और कोयले की कीमतों में 20% तक बढ़ोतरी हो सकती है। वर्ल्ड बैंक ने अप्रैल कमोडिटी मार्केट्स आउटलुक में बताया कि, 2018 में तेल कीमतें औसत 65 डॉलर प्रति बैरल रहने की आस है।

2017 में यह औसत 53 डॉलर प्रति बैरल पर थी। इस बढ़ोतरी उपभोक्ता डिमांड बढ़ने और तेल उत्पादकों के जरिए उत्पादन घटाने का प्रमुख कंट्रीब्यूटर रहेगा। वर्ल्ड बैंक ने बताया कि, 2019 में भी तेल की औसत प्राइस 65 डॉलर प्रति बैरल रहने की आस है। जानकारी के मुताबिक, इंडिया के लिहाज से यह गुड न्यूज़ नहीं है क्योंकि वह कच्चे तेल की अपनी आवश्यकता का 80% आयात करता है।

उधर, गवर्नमेंट का अनुमान है कि करंट फाइनेंसियल ईयर में तेल आयात के खर्च में 20% की वृद्धि हो सकती है। सूत्रों में ये बताया गया है कि, 2017-18 में करीब 59 हजार करोड़ रु. का तेल आयात किया गया था। 

पेट्रोल-डीजल के दाम रिकॉर्ड उच्च स्तर पर
बता दें कि, कंट्री में इन दिनों पेट्रोल की प्राइस रिकॉर्ड उच्च स्तर के पास पहुंच गई है, जबकि डीजल सर्वकालिक उच्च स्तर पर बिक रहा है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

इंडियन ऑयल कारपारेशन की ताजा मूल्य लिस्ट में ये बताया गया है कि, बीते वेडनेसडे को दिल्ली में पेट्रोल मूल्य प्रति लीटर 74.63 रुपये था, जो पिछले 5 ईयर का ऊपरी स्तर है। इस तरह डीजल मूल्य प्रति लीटर 65.93 रुपये था, जो सर्वकालिक उच्च स्तर है। 

sanjeevni app

More From business

Trending Now
Recommended