संजीवनी टुडे

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, बिना ठेकेदार के सीधे ही कंपनियों में मिलेगी नौकरी, कर्मचारियों को मिलेंगे यह फायदे

संजीवनी टुडे 21-03-2018 12:44:21

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने श्रम संगठनों की बात मानते हुए अपने एक कानून में संशोधन किया है जिससे प्राईवेट सेक्टर में नौकरी करने वाले लोगों को फायदा मिलेगा। वित्त अरूण जेटली में बजट भाषण के दौरान भी इस तरह के संकेत दिए थ्ो। सरकार की और से नोटिफिकेशन जारी कर इसे लागू कर दिया गया है। कारोबार को आसान बनाने के लिए कर्मचारियों को निश्चित अवधि के लिए नौकरी पर रखने की इजाजत दे दी है।

इस कानून में बदलाव के बाद सभी तरह की नौकरियों के लिए बिना ठेकेदार के ही वर्करों को सीधे फिक्स्ड टम्र्स के लिए नियुक्त किया जा सकेगा। कानून में सशोंधन से पहले तक सिर्फ सहायक गतिविधियों के लिए कॉन्ट्रैक्ट वर्कर्स को नियुक्त करने की अनुमति मिली हुई थी जबकि मूल कारोबारी गतिविधियों के लिए नहीं था हालांकि अब सभी तरह गतिविधियों के लिए रख सकते हैं।

इससे उन कंपनियों को काफी फायदा हो जाएगा जिनको किसी खास सीजन में अधिक कर्मचारियों की जरूरत होती हैं। अब वो काम ज्यादा होने पर ठेके पर कर्मचारी रख सकतें हैं बिना किसी ठेकेदार के। हालांकि कंपनी को ठेके पर रखे गए कर्मचारियों को स्थाई कर्मचारियों की तरह ही सारी सुविधाएं देनी होंगी लेकिन ठेके की अवधि के दौरान भी उन कर्मचारियों को बिना किसी नोटिस के निकाला जा सकता है।

MUST WATCH

इससे पहले यह सुविधा केवल वस्त्र उद्योग के लिए ही थी लेकिन केंद्र सरकार ने अब सभी कंपनियों के दरवाजे खोल दिए हैं। इससे पहले जो कानून था उसके कारण कंपनियां कर्मचारी सीधे ठेके पर नहीं रख सकती थी बल्कि उसे किसी थर्ड पार्टी यानी ठेकेदार का सहारा लेना पड़ता था लेकिन यह बाधा दूर हो गई है इससे कंपनी और कर्मचारी दोनों को ही फायदा होने वाला है।

Rochak News Web

More From business

Trending Now
Recommended